THINK YOURSELF RICH-Use the Power of Y… Joseph Murphy Books In Hindi Summary

THINK YOURSELF
RICH-Use the Power of Y…
Joseph Murphy

इंट्रोडक्शन
क्या कभी आपको लगा जैसे लाइफ एक जगह ठहर सी
गई है ? क्या आपको ये फील हुआ कि फाइनेंसियल
डीशन के चलते आप अपने असली पोटेंशियल तक
नहीं पहुँच पा रहे ? वेल, अगर यही बात है तो अब
आपकी सारी टेंशन दूर हो जायेगी क्योंकि हम आपको
बतायेंगे कि आप अपनी लाइफ का रिमोट कण्ट्रोल
अपने हाथ में कैसे रख सकते है. आपके फ्यूचर को
सिर्फ एक चीज़ कण्ट्रोल करती है और वो है आपका
माइंडसेट. अगर आप राईट एटीट्यूड के साथ अपने
गोल्स को अचीव करने की कोशिश करोगे तो एक ना
एक दिन आपके गोल्स आपकी मुट्टी में होंगे.
इस समरी में हम आपको सबकांशस माइंड के पावर
के बारे में बताने वाले है. आपका सबकांशस माइंड
जिसे इंट्यूशन भी कहते है दरअसल बेहद पावरफुल
टूल है और आप ये मत सोचो कि आपकी किस्मत में
ख़ुशी और पैसा नहीं लिखा है. खुद पर भरोसा रखो,
आपका सबकांशस माइंड ऐसा पावरफुल हथियार
है जिसकी बदौलत आप अपनी किस्मत खुद लिख
पाओगे.


ये समरी आपको थॉट इमेज यूज़ करके अपने गोल्स
अचीव करने का मेथड बताएगी. थॉट इमेज उस मेथड
का नाम है जब हम उन चीजों को विज़ुएलाईज़ करते है
जो हम फ्यूचर में पाना चाहते है. इसके अलावा आप
जानेंगे कि अपने गोल्स को पाने के लिए पहले आपको
उन पर फ़ोकस करना पड़ेगा. ये बहुत इम्पोर्टेंट है वर्ना
आप कभी अपने सपनों तक नहीं पहुँच पाओगे.
ये समरी हमें ये भी बताती है कि पैसे को लेकर
आपका एटीट्यूड कैसे आपके वेल्थ को अफेक्ट करता
है. राईट एटीट्यूड मेंटेन करके आप अपनी ओर पैसों
को attract करने लगते हैं. दूसरों के प्रति आपका
एटीट्यूड भी उतना ही मैटर करता है. अपने आस-पास
के लोगों के प्रति पॉजिटिव एटीट्यूड अपनाकर भी
आप वेल्थ को attract करते हो.
अपनी जरूरतों और ख्वाहिशों को पूरा करने का जरिया
आप खुद हो. आप अपने पावर से अपने सपने पूरे कर
सकते हो. खासतौर पर अपने सबकांशस माइंड की
पावर से. इसलिए अपने गलत एटीट्यूड को अपने
फेलियर की वजह मत बनने दो, अपने माइंड पावर
को यूज़ करके अपने लिए एक ऐसा फ्यूचर क्रिएट करो
जहाँ पैसा और ख़ुशियाँ आपके कदम चूमे.

THINK YOURSELF
RICH-Use the Power of Y…
Joseph Murphy
The Secret of Miracle Power for
Infinite Riches
इंसान सिर्फ खून और मांस से बना पुतला नहीं है
बल्कि एक चेतना भी है जिसे या इसे सबकांशस माइंड
भी कह सकते है. कुछ लोगों का मानना है कि चेतना
ब्रहामांड का एक हिस्सा है यानि हमारा सबकांशस
माइंड यूनिवर्स से कनेक्टेड है. लेकिन कुछ लोग ये
भी कहते है कि चेतना भगवान से जूडी है और इस
कनेक्शन के कारण ही शायद हमारा सबकांशस माइंड
ज्ञान और शक्ति का अथाह सागर है.
ये आपका हक़ है कि आप अमीर बनो. आपको
यूनिवर्स ने अमीर बनने के लिए ही रचा है. आप शायद
कहोगे मेरा पर्पज सिर्फ एक हैप्पी और हेल्दी लाइफ
जीना है लेकिन अगर ऐसा ही है तो क्यों लाकों-करोड़ों
लोग गरीबी और मजबूरी की जिंदगी बिताने पर मजबूर
है? वो इसलिए क्योंकि उनका माइंडसेट ही ऐसा
है. लोग इसलिए झोपड़-पट्टी में रहते है क्योंकि वो
अपनी लाइफ ऐसी ही जगह में इमेजिन करते है. जो
दिन-रात महलों में रहने के सपने देखेगा तो वो उस
सपने को सच करने के लिए कुछ भी कर जाएगा.

उसका
रिक एक प्रॉपर्टी सेल्समेन है. कुछ साल पहले स्टॉक
मार्केट में रिस्की इन्वेस्टमेंट करने की वजह
काफी रुपया डूब गया था. लेकिन रिक ने सोचा वो
इस नुकसान की भरपाई अपनी सैलरी से कर लेगा.
हालांकि हालात कुछ ऐसे बने कि रिक की एक भी
प्रॉपटी डील नहीं हो पाई.
कई महीने गुजर गए पर रिक की सेल नहीं रही थी.
यहाँ तक कि उसे बिल्स भरने के लिए उधार लेना पड़ा.
इसी दौरान रिक एक दिन इस बुक के ऑथर डॉक्टर
मर्फी से मिला. बातचीत के दौरान डॉक्टर मर्फी ने
महसूस किया कि रिक अपने सक्सेसफुल कलीग्स से
काफी जलता है. असल में रिक की सारी प्रॉब्लम की
वजह यही थी.
रिक अपने जलन के कारण मन ही मन अपने कलीग्स
को भला-बुरा करता था. वो उनकी सेल्स टेक्नीक और
उनके बात करने के तरीकों पर भी नेगेटिव कमेंट्स
किया करता. अपनी जलन के कारण वो ये भी नहीं
देख पा रहां था कि उसके कलीग्स अपने मेथड और
तौर-तरीकों की वजह से ही उससे ज्यादा पैसा कमा रहे
है.

इन सारी चीजों की वजह से रिक के सबकांशस माइंड
में नेगेटिव मैसेज जा रहा था. वो खुद को हमेशा यही
बोलता रहता था कि सक्सेस एक इतनी बुरी चीज़ है
जिसे क्रिटिसाईंज़ किया जाना चाहिए.
अपने इसी नेगेटिव एटीट्यूड के कारण रिक की अब
तक कोई सेल नहीं हो पाई थी. लेकिन ये एहसास
होने के बाद कि वो एक गलत माइंडसेट के साथ जी
रहा है, उसने अपना नज़रिया बदला. उसने विश करना
स्टार्ट किया कि उसके colleagues को और ज्यादा
सक्सेस और ख़ुशियाँ मिले. अपने लिए भी उसकी यही
दुआ थी कि जैसी सक्सेस उसके कलीग्स को मिली है
वैसी सक्सेस उसे भी मिले.
रिक ऐसे विश करने लगा जैसे मेडिटेशन की प्रेक्टिस
कर रहा हो. वो दिन में कई बार विश करता. जल्द
ही उसे पॉजिटिव रिजल्ट दिखे. उसकी सेल्स रेगुलर
बेसिस पर हो रही थी. उसका काम चल निकला था
और कुछ ही टाइम बाद उसके सारे कर्जे भी उतर गए
थे.
अपने उधार चुकाने के बाद भी रिक ने मेडिटेशन
करना नहीं छोड़ा. आज रिक अपनी फर्म के सबसे
प्रोडक्टिव ब्रांच का हेड है. उसके कलीग्स और स्टाफ
उसे बहुत सम्मान और प्यार देते है.

THINK YOURSELF
RICH-Use the Power of Y…
Joseph Murphy
How To Tap The Miracle Power At
Once That Makes You Rich
असली वेल्थ या दौलत का मतलब सिर्फ पैसा और
पावर नहीं होता. अगर आपकी सेहत ठीक नहीं है
या आप अंदर से दुखी है तो दुनिया की सारी दौलत
भी आपके लिए बेकार है. आपका सबकांशस माइंड
आपको ख़ुशियाँ और अच्छी हेल्थ दे सकता है लेकिन
इसके लिए आपको इसे अपने थॉट में उतारना होगा.
अपने सबकांशस की असली पोटेंशीयल को यूज़ करने
के लिए आपको एक अच्छा एक्जीक्यूटिव बनना होगा.
एक अच्छे एक्जीक्यूटिव वही होते है जो अपने वर्कर्स में
ज़िम्मेदारी को बाँट दें और फिर उन्हें काम करने के लिए
थोड़ी स्पेस दे.
ठीक इसी तरह आपको भी अपने सबकांशस को अपने
सक्सेस की सारी जिम्मेदारी सौंपनी है. लेकिन ये काम
आपको पूरे विश्वास और कॉन्फिडेंस से करना होगा.
आपको ये नहीं सोचना है कि आपकी सिचुएशन
कब और कैसे इम्प्रूव होगी. आपका इंट्यूशन आपको
सक्सेस के रास्ते में आगे बढ़ने के लिए गाईड करेगा.

अपने सबकांशस माइंड को इंस्ट्रक्शन देने के लिए
आपके थॉट्स क्लियर होने चाहिए. आपको हर वक्त
प्रार्थना या उम्मीद लगाए नहीं रखनी है. इससे आपका
सबकांशस माइंड डिसट्रेक्ट हो जाएगा और ठीक से
काम नहीं कर पायेगा. हमें दिन में एक या दो बार ही
मेडिटेशन करनी चाहिए.
ये भी ध्यान रखना कि आपका माइंड एकदम शांत
रहे यानि आपको ये टेंशन नहीं लेनी है कि आपकी
प्रार्थना सुनी जाएगी या नहीं. अगर आप ज्यादा
सोचते रहोगे तो आपका सबकांशस माइंड अपना काम
ठीक से नहीं कर पायेगा और इससे चीज़े उल्टा और
बिगड़ सकती है.
ब्रेंडन एक बैंकर है जो अपने काम में बेहद सक्सेसफुल
है. बैंकिंग इंडस्ट्री में काम करने वाले ज्यादातर लोगों
की तरह वो भी बहुत कॉम्पटीटिव नेचर का है जिसके
चलते उसे अपना हर कलीग अपना दुश्मन नज़र आता
है. ऐसे ही न्यूज़पेपर पढ़ते वक्त वो बिजनेस अपडेट्स
को कोसने लगता. अपनी जॉब को लेकर वो हद से
ज्यादा स्ट्रेस ले रहा था और इस चक्कर में काफी
स्मोकिंग भी करने लगा था.
ब्रेंडन ने कई सालों तक अपनी स्मोकिंग की हैबिट को
नज़रअंदाज़ किया. एक दिन टेनिस मैच के दौरान वो

बुरी तरह से थक गया था. वो जीत रहा था पर उसे बीच
में ही गेम रोकना पड़ा. ब्रेंडन का मूड ऑफ़ हो गया.
उसने डिसाइड किया कि उसे स्मोकिंग की लत किसी
भी तरह छोडनी होगी.
लाइफ में बाकि चीजों की तरह ब्रेंडन ने इस लत को
भी एक चैलेंज की तरह लिया. वो इमेजिन करता कि
उसकी स्मोकिंग की लत छूट गई है. लेकिन इसके
बावजूद उसकी सारी कोशिश बेकार गई. वो जितना
सिगरेट छोड़ने के बारे में सोचता उतना ही ज्यादा
उसका स्मोक करने का मन करता.
स्मोक ना कर पाने की वजह से वो छोटी-छोटी बात पर
गुस्सा होने लगा. इसी दौरान उसने कई रिस्की बिजनेस
डिसीजन भी लिए. ब्रेंडन की इस लापरवाही की वजह
से उसकी जॉब भी जाते-जाते बची.
इसी परेशानी की हालत में एक दिन ब्रेंडन जाकर
डॉक्टर मर्फी से मिला. डॉक्टर ने बड़े ध्यान से उसकी
सारी बातें सुनी. वो समझ गए थे कि ब्रेंडन की प्रॉब्लम
क्या है. ब्रेंडन ने आज तक हमेशा लाइफ को एक जंग
की तरह लिया था जहाँ उसे दुनिया के ख़िलाफ़ जीतना
है यानी दूसरे शब्दों में कहे तो उसके सबकांशस में ये
बात बैठ गई थी कि अपनी बुरी आदत छोड़ना किसी
स्ट्रगल से कम नहीं है.

ब्रेंडन की हालत उस इंसान जैसी थी जो दलदल में
फंसा हो. जितना आप दलदल से बाहर निकलने की
कोशिश करते हो उतना ही और गहरे धंसते चले जाते
हो. असल में ब्रेंडन स्मोकिंग छोड़ने की कोशिश में
स्मोकिंग के खिलाफ एक जंग लड़ रहा था. वो जितना
जोर लगाकर जीतने की कोशिश करता उतना ही
उसके लिए इस लत को छोड़ना मुश्किल हो रहा था.
लेकिन डॉक्टर मर्फी के पास उसकी प्रॉब्लम का सिंपल
सोल्यूशन था.
ब्रेंडन को मेडिटेशन और दिन में दो बार
विजूअलाईजेशन एक्सरसाइज़ सजेस्ट किया गया.
उसे कहा गया कि वो घर के एक शांत कोने में बैठकर
इमेजिन करे कि वो अपने डॉक्टर से मिल रहा है और
डॉक्टर उसे हमेशा-हमेशा के लिए स्मोकिंग छोड़ने पर
congratulate कर रहा है.
मेडिटेशन के ज़रिए ब्रेंडन अपने सबकांशस माइंड को
मैसेज देता था कि वो उसे स्मोकिंग छोड़ने में हेल्प
करे. इसके लिए वो अपने माइंड को पहले एकदम
शांत कर लेता था ताकि उसके सबकांशस माइंड को
क्लियर गोल मिल सके. उसने खुद को जबर्दस्ती रोकने
की कोशिश नहीं की बल्कि ये काम उसने अपने
सबकांशस माइंड पर छोड़ दिया. धीरे-धीरे ब्रेंडन के
अंदर स्मोक करने की तलब घटती चली गई.

ब्रेंडन को मेडिटेशन और दिन में दो बार
विजूअलाईजेशन एक्सरसाइज़ सजेस्ट किया गया.
उसे कहा गया कि वो घर के एक शांत कोने में बैठकर
इमेजिन करे कि वो अपने डॉक्टर से मिल रहा है और
डॉक्टर उसे हमेशा-हमेशा के लिए स्मोकिंग छोड़ने पर
congratulate कर रहा है.
मेडिटेशन के ज़रिए ब्रेंडन अपने सबकांशस माइंड को
मैसेज देता था कि वो उसे स्मोकिंग छोड़ने में हेल्प
करे. इसके लिए वो अपने माइंड को पहले एकदम
शांत कर लेता था ताकि उसके सबकांशस माइंड को
क्लियर गोल मिल सके. उसने खुद को जबर्दस्ती रोकने
की कोशिश नहीं की बल्कि ये काम उसने अपने
सबकांशस माइंड पर छोड़ दिया. धीरे-धीरे ब्रेंडन के
अंदर स्मोक करने की तलब घटती चली गई.
अगली बार डॉक्टर से मीटिंग करने पर ब्रेंडन को पता
चला कि उसकी हेल्थ में पहले से काफी इम्प्रूवमेंट है.
उसे अब जरा भी स्मोक करने का मन नहीं होता
था. उसका मूड भी ठीक रहता था और अपने कलीग्स
के साथ उसके रिलेशन भी काफी अच्छे हो चले थे.
इतना ही नहीं, एक और पॉजिटिव इफेक्ट ये पड़ा कि
उसकी डिसीजन लेने की पावर पहले से अच्छी हो गई
थी जिससे उसकी अर्निंग में भी इज़ाफा हो रहा था.

THINK YOURSELF
RICH-Use the Power of Y…
Joseph Murphy
How The Rich Get Richer – And How
You Will Join Them
आपके सबकांशस माइंड में इतनी पावर है कि वो
आपके सपने सच कर सकती है फ़िर चाहे आपका
सपना कुछ भी हो, अच्छे दोस्त बनाने का, खूब पैसे
कमाने का, अच्छी सेहत का या जो भी आप चाहते
है. आपके थॉट्स वो रास्ता है जिससे आप अपने
सबकांशस माइंड तक पहुँच सकते है.
इस पावर तक पहुँचने का एक मेथड है थॉट इमेजेस.
जैसे एक्जाम्पल के लिए आप यूरोप जाना चाहते हो
तो आपको पहले अपने माइंड में यूरोप की एक इमेज
बनानी पड़ेगी. अब आप खुद को यूरोप की गलियों में,
वहां के अलग-अलग देशों में घूमते हुए इमेजिन करो तो
अब ये आपके सबकांशस माइंड की ड्यूटी बन जायेगी
कि वो इस थॉट इमेज़ को रियलिटी बनाने का काम
करेगा.
इस मामले में जो लॉ अप्लाई होता है वो लॉ ऑफ़
इनफिनाईट इनक्रीज है यानि जिस भी चीज़ पर आप

फ़ोकस करोगे वो आपकी लाइफ में बढ़ने लगेगा. जैसे
कि अगर आप वेल्थ और ख़ुशी पर फ़ोकस करोगे तो ये
दोनों चीज़े आपको भरपूर मिलेंगी या आपका फ़ोकस
अगर दुःख और परेशानी पर है तो बार-बार आपको
दुःख और परेशानियां मिलती रहेंगी.
लॉ ऑफ़ इनक्रीज का मैक्सीमम फायदा उठाने के लिए
आपको एक पॉजिटिव एटीट्यूड मेंटेन करना होगा.
आपको ये विश्वास रखना होगा कि आप भी एक
ख़ुशहाल जिंदगी जी सकते है. हम सब भगवान् के
बच्चे है इसलिए हम सबको खुश रहने का अधिकार है.
बस एक चीज़ हो हमें खुशियों से दूर कर रही है वो है
हमारा सबकांशस माइंड.
डॉक्टर मर्फी एक बार स्पेन के ट्रिप पर गए थे. जब
वो सेविल शहर के टूअर पर थे तो उन्होंने एक टूअर
गाईड हायर किया जिसका नाम था मिगेल. मिगेल
एक फ्रेंडली और इंटेलीजेंट नौजवान था. उसे शहर
और उसके कल्चर के बारे में काफी नॉलेज थी. इसके
अलावा उसकी इंग्लिश भी अच्छी थी.
मिगेल से बातचीत के दौरान डॉक्टर मर्फी ने
पूछा
कि उसकी इंग्लिश इतनी अच्छी कैसे है तो मिगेल
ने बताया कि वो न्यू यॉर्क में पैदा हुआ था और वही
पला-बढ़ा है. उसकी माँ स्पेनिश है जो उसके पिता से

शादी करने के बाद अमेरिका शिफ्ट हो गई थी. अपने
बैकग्राउंड की वजह से मिगेल इंग्लिश और स्पेनिश
दोनों अच्छी तरह से बोल लेता था.
बचपन से ही मिगेल का यूरोप में एक टूअर गाईड
बनने का सपना था. उसे मैप को स्टडी करने और
शहरों के बारे में जानने का बड़ा शौक था. 14 की उम्र
में मिगेल ने डिसाइड किया कि वो अपने गोल पर पूरी
तरह से फ़ोकस करेगा. उसने एक पेपर पर लिखा कि
वो स्पेन और यूरोप में लोगों को गाईड करने में हेल्प
करेगा.
मिगेल हमेशा उस पेपर के टुकड़े को अपने वॉलेट में
लिए घूमता और जब भी मौका मिले उसे पढ़ लेता.
इसके अलावा वो रोज़ खुद को यूरोप के शहरों में घूमते
हुए इमेजिन करता. वो उन सारी हिस्टोरिकल बिल्डिंग्स
को विजुअलाईज़ करता जिन्हें एक दिन वो टूरिस्टों को
दिखाने चाहता था.
कुछ सालों बाद मिगेल ने सेविल से हाई स्कूल की
पढाई खत्म की उसके बाद उसे एक ऐसी यूनिवर्सिटी
का पता चला जहाँ से वो टूअर गाईड का कोर्स कर
सकता था. मिगेल ने इस कोर्स में एडमिशन ले लिया
और काफी अच्छे ग्रेड्स से पास हुआ.

क्योंकि उसके माइंड में शुरू से ही एक क्लियर गोल
था तो मिगेल अपने सपने को हकीकत में बदल पाया.
क्योंकि उसने अपने सपनों पर फ़ोकस किया तो उसके
सामने खुद ही मौके आते गए. लॉ ऑफ़ infinite
इनक्रीज मिगेल के फेवर में काम करता जा रहा था
जिसकी बदौलत उसे हर साल और ज्यादा क्लाइंट्स
मिलते जा रहे थे.
How Miracle Thought-Forms Will
Increase Your Wealth
ज्यादा पैसे कमाने का एक ही सीक्रेट है, पैसे से दोस्ती
कर लो. इसका मतलब है कि पैसे के लेकर आपके
माइंड में पॉजिटिव एटीट्यूड होना चाहिए. कुछ लोग
मानते है कि पैसा हर बुराई की जड है. उन्हें लगता है
कि ज्यादा पैसे कमाने की ईच्छा रखना गलत है. लेकिन
हम आपको बता दे कि जो कहता है कि पैसा हर बुराई
की जड है, असल में वो हमेशा गरीब ही रहता है.
पैसा एक सिस्टम है इस दुनिया की इकॉनोमिक हेल्थ
मेंटेन रखने के लिए. पैसा बुरी चीज नहीं है जब तक
कि इसका इस्तेमाल बुरी चीजों के लिए न किया जाए
बल्कि ये ख़ुशी और सिक्योरीटी को रीप्रेजेंट करता है
उन लोगों के लिए जिनका दिल अच्छा है. तो अगर
आप पैसे को लेकर पॉजिटिव एटीट्यूड रखोगे तो पैसा
खुद चलकर आपके पास आने लगेगा.

जूडी एक अच्छी राईटर है. उसके कई आर्टिकल
पब्लिश हो चुके है. हालाँकि राइटिंग के काम से वो
कभी ज्यादा पैसा नहीं कमा पाई. उसने डॉक्टर मर्फी
को बताया कि वो पैसे के लिए नहीं लिखती. उसे
लगता है कि पैसा एक खराब चीज़ है जो अपने साथ
हर बुराई लेकर आता है.
असल में जूडी पैसे से नफरत नहीं करती बल्कि वो
नफरत करती है लालच से उसे ये चीज़ बुरी लगती है
कि लालची जर्नलिस्ट पैसे की खातिर झूठ लिखने को
भी तैयार हो जाते है. हालाँकि दूसरों के थॉट्स को
दोष देने के बजाए वो पैसे को ही दोष देती है.
नतीजा ये हुआ कि जाने-अनजाने में वो अपने
सबकांशस माइंड को मैसेज दे रही थी कि पैसा बुरी
चीज़ है. उसका सबकांशस माइंड सुनता रहा और पैसे
से उसे दूर रखता रहा. जूडी को पैसे की ईच्छा रखना
भी बुरा लगता था. उसे लगता था कि कहीं वो पैसे के
लिए गलत लिखने पर मजबूर ना हो जाये.
डॉक्टर मर्फी ने जूडी की प्रॉब्लम बड़े ध्यान से सुनी.
उन्होंने उसकी प्रॉब्लम सोल्व करने के लिए एक
मेडीटेशन क्रिएट किया. जब भी वो अपने कंप्यूटर पर
कुछ लिखने बैठे तो उसे ये बोलना था. सबसे पहले तो
उसे खुद को विश्वास दिलाना होगा कि वो अपने रीडर्स
को इंस्पायर करने के लिए लिख रही है. जूडी खुद
को ये भी बोलती थी कि वो अपनी मेहनत और एफर्ट
के लिए पैसा डिजर्व करती है और वो पैसा वो अच्छी

दोष देने के बजाए वो पैसे को ही दोष देती है.
नतीजा ये हुआ कि जाने-अनजाने में वो अपने
सबकांशस माइंड को मैसेज दे रही थी कि पैसा बुरी
चीज़ है. उसका सबकांशस माइंड सुनता रहा और पैसे
से उसे दूर रखता रहा. जूडी को पैसे की ईच्छा रखना
भी बुरा लगता था. उसे लगता था कि कहीं वो पैसे के
लिए गलत लिखने पर मजबूर ना हो जाये.
डॉक्टर मर्फी ने जूडी की प्रॉब्लम बड़े ध्यान से सुनी.
उन्होंने उसकी प्रॉब्लम सोल्व करने के लिए एक
मेडीटेशन क्रिएट किया. जब भी वो अपने कंप्यूटर पर
कुछ लिखने बैठे तो उसे ये बोलना था. सबसे पहले तो
उसे खुद को विश्वास दिलाना होगा कि वो अपने रीडर्स
को इंस्पायर करने के लिए लिख रही है. जूडी खुद
को ये भी बोलती थी कि वो अपनी मेहनत और एफर्ट
के लिए पैसा डिज़र्व करती है और वो पैसा वो अच्छी
चीजों में ही खर्च करेगी.
जल्दी ही पैसे को लेकर जूडी के माइंड में जो नेगेटि
एटीट्यूड था वो चेंज हो गया. उसे एहसास हुआ कि
उसका नेगेटिव एटीट्यूड ही उसे अब तक पैसे से दूर
कर रहा था. इसीलिए उसे ज्यादा पैसे कमाने के मौके
नहीं मिल पा रहे थे. इसके बाद एक ही साल में जूडी
की इनकम तीन गुना हो गई थी.

THINK YOURSELF
RICH-Use the Power of Y…
Joseph Murphy
How To Hear The Gentle, Invisible
Voices That Can Guide You To Wealth
आपका सबकांशस माइंड हमेशा आपको प्रोटेक्ट करने
की कोशिश करता है. ये आपकी ब्रीदिंग और हार्टबीट
को कण्ट्रोल करके आपको जिंदा होने का एहसास
कराता है. ये बॉडी के फंक्शन तब तक सेम रहते
है जब तक कि आप उन्हें चेंज करने के लिए अपने
सबकांशस माइंड का यूज़ नहीं करते.
इससे पहले वाले चैप्टर्स में आपने सीखा कि कैसे
आपके थॉट आपके सबकांशस से बात करते है. अब
आप देखोगे कि कैसे आपका सबकांशस आपसे बात
करता है. ये “इनर वौइस्” यानी मन की आवाज़ के
जरिये ये काम करता है. आमतौर पर इसे इंट्यूशन कहा
जाता है. दुनिया में कई ग्रेट आर्टिस्ट और राइटर्स अपने
इंट्यूशन की वजह से इंस्पायर होते रहे है.

आपका इंट्यूशन आपको वो चीज़ भी बताता है जो
आपका सबकांशस माइंड नहीं बता सकता. आपका
इंट्यूशन आपको ऐसी चीज़े भी बता देता है जिन्हें
logically जानने में आपको कई घंटे लग जाते.
इसकी वजह ये है कि हमारा इंट्यूशन यूनिवर्स की
infinite नॉलेज़ के साथ कनेक्टेड है.
आमतौर पर आपका इंट्यूशन आपको खतरे के वक्त ही
आगाह करता है. इसलिए हर वक्त इंट्यूशन से मैसेज
पाने की उम्मीद रखना बेकार है. हालाँकि इनर वौइस्
कभी अगर कोई मैसेज दे तो उसे सिरियसली लेना
चाहिए.
लूईस (Louise) को अपनी कंपनी में काम करते इतने
साल हो गए है कि वो अपनी जॉब से अब बोर हो गई
है. तो उसने इंटरनेट पर अपने लिए जॉब ढूंढनी स्टार्ट
की. जल्द ही उसे न्यू टेक स्टार्ट-अप से एक ऑफर भी
आ गया. यहाँ उसे सैलरी भी अच्छी मिल रही थी और
काम करने का माहौल भी काफी मजेदार लग रहा था.
इस जॉब में वो सब कुछ था जिसकी लूईस को तलाश
थी. ऊपर से उसके बॉयफ्रेंड ने भी कह दिया कि अगर
उसने ऑफर एक्सेप्ट नहीं की तो उससे बड़ा इडियट

कोई नहीं होगा. लेकिन कहीं ना कहीं लूईस का
इंट्यूशन इस बात से सहमत नहीं था. उसे पता नहीं
क्यों बार-बार लग रहा था कि उसे ऑफर रिजेक्ट कर
देना चाहिए.
आखिरकार अपने बॉयफ्रेंड के समझाने के बावजूद
लूईस ने ऑफर रिजेक्ट कर दिया. हालांकि इस बात
का उसे 3 हफ्तों तक बड़ा अफ़सोस भी रहा. लेकिन
बाद में एक दिन जब वो न्यूज़ देख रही थी तो उस टेक
स्टार्ट-अप की हेडलाइन पर उसकी नज़र पड़ी. जिस
स्टार्ट-अप कंपनी ने उसे जॉब ऑफर की थी, दिवालिया
हो गई थी.
कंपनी की फाइनेंसियल स्टेबिलिटी जानने के लिए
लूईस ने घंटो रिसर्च की थी लेकिन उसका सबकांशस
माइंड यूनिवर्स की infinite नॉलेज से कनेक्टेड था
तो इसने उसे तुरंत बता दिया कि ये ऑफर एक्सेप्ट
करना उसे भारी पड़ सकता है.
और तब से लेकर आज तक लूईस ने एक हैबिट बना
ली कि वो कोई भी डिसीजन लेने से पहले मेडिटेशन
करेगी. अगर उसे मैसेज मिलता है तो वो उसे फॉलो
करती है. उसका इंट्यूशन आज तक कभी गलत
साबित नहीं हुआ है.

कोई नहीं होगा. लेकिन कहीं ना कहीं लूईस का
इंट्यूशन इस बात से सहमत नहीं था. उसे पता नहीं
क्यों बार-बार लग रहा था कि उसे ऑफर रिजेक्ट कर
देना चाहिए.
आखिरकार अपने बॉयफ्रेंड के समझाने के बावजूद
लूईस ने ऑफर रिजेक्ट कर दिया. हालांकि इस बात
का उसे 3 हफ्तों तक बड़ा अफ़सोस भी रहा. लेकिन
बाद में एक दिन जब वो न्यूज़ देख रही थी तो उस टेक
स्टार्ट-अप की हेडलाइन पर उसकी नज़र पड़ी. जिस
स्टार्ट-अप कंपनी ने उसे जॉब ऑफर की थी, दिवालिया
हो गई थी.
कंपनी की फाइनेंसियल स्टेबिलिटी जानने के लिए
लूईस ने घंटो रिसर्च की थी लेकिन उसका सबकांशस
माइंड यूनिवर्स की infinite नॉलेज से कनेक्टेड था
तो इसने उसे तुरंत बता दिया कि ये ऑफर एक्सेप्ट
करना उसे भारी पड़ सकता है.
और तब से लेकर आज तक लूईस ने एक हैबिट बना
ली कि वो कोई भी डिसीजन लेने से पहले मेडिटेशन
करेगी. अगर उसे मैसेज मिलता है तो वो उसे फॉलो
करती है. उसका इंट्यूशन आज तक कभी गलत
साबित नहीं हुआ है.

THINK YOURSELF
RICH-Use the Power of Y…
Joseph Murphy
How To Use The Amazing Law That
Reveals All Money Secrets
प्यार इस यूनिवर्स का सबसे फंडामेंटल लॉ है. हमें
लोगों से प्यार होता है, म्यूजिक से प्यार होता है, आर्ट
से प्यार होता है, और कुछ लोगों को तो अपनी जॉब
से ही प्यार हो जाता है. जो प्यार देता है बदले में उसे
प्यार मिलता भी है. एल्बर्ट आइंस्टाइन ग्रेट डिस्कवरीज़
इसीलिए कर पाए क्योंकि उन्हें फिजिक्स से प्यार था.
जब आप अपने काम से प्यार करते हो तो आपको
उसका रिवॉर्ड भी जरूर मिलता है.
प्यार की पावर सिर्फ पैसे कमाने तक सीमित नहीं है.
ये आपकी लाइफ में ख़ुशियाँ और हेल्थ भी ला सकती
है. जब आप दूसरों से बिना किसी स्वार्थ या शर्त के
प्यार करते हो तो बदले में आपको भी दुआएं मिलती
है. अगर आप नफरत बांटोगे तो बदले में आपको
नफरत ही मिलेगी.

कहते है इंसान को सबसे प्यार करना चाहिए यहाँ तक
कि अपने दुश्मनों से भी, जो आपका बुरा चाहते है.
सुनने में ये थोडा अजीब लगता है पर यही बेस्ट ऑप्शन
है. जब आपका प्यार आपके दुश्मनों तक पहुंचेगा तो
वो खुद ब खुद आपके रास्ते से हट जायेंगे. लेकिन अगर
आप उन्हें नफरत से जीतने की कोशिश करोगे तो वो
आपके लिए और मुश्किलें खड़ी कर सकते है.
रिचर्ड लन्दन में रहता है. वो एक बेहद गरीब और
किस्मत का मारा लड़का है. उसके पास कोई स्टेबल
जॉब नहीं है, ऊपर से उसे टीबी हो गई थी. दिन ब दिन
रिचर्ड की बीमारी बढ़ती जा रही थी. जब उसे पूरी तरह
यकीन हो गया कि अब वो कभी ठीक नहीं
तो उसने एक स्पिरिचुअल एडवाईज़र से मदद ली.
पाएगा
बातचीत के दौरान स्पिरिचुअल एडवाईजर ने महसूस
किया कि रिचर्ड के अंदर बहुत नफरत भरी है खासकर
बैंकर्स और अमीर लोगों से वो बेहद नफरत करता
था. इसकी वजह ये थी कि बचपन में उसके साथ कुछ
बुरे एक्सपीरीएंस हुए थे. रिचर्ड जब छोटा था तो उसके
पिता ने जो कर्जा लिया था उसे वो चुका नहीं पाए थे
इसलिए बैंक ने उनका घर जब्त कर लिया था.

और तब से रिचर्ड को ज्यादा पैसे वाले लोगों से
नफरत सी हो गई थी. उसे लगता था कि सारे अमीर
लोग बुरे होते है. उसका सबकाशंस माइंड उसे ज्यादा
पैसा कमाने से रोकता रहा. अपनी गरीब लाइफस्टाइल
के चलते रिचर्ड को टीबी हो गई थी और उसके माइंड
में जो इतनी नेगेटिविटी भरी हुई थी उसी के चलते
उसकी बीमारी और भी बढ़ती चली गई.
स्पिरिचुअल एडवाईज़र ने ये भी जाना कि सबसे पहले
रिचर्ड के दिल से नफरत हटाकर उसे प्यार करना
सिखाना होगा. उसने रिचर्ड को डेली लन्दन स्टॉक
एक्सचेंज जाने की सलाह दी. एक घंटे के लिए उसे वहां
से जाने वाले हर किसी के लिए दुआ करनी थी. उसे
दुआ करनी थी कि ये लोग ज्यादा पैसे और खुशियाँ पा
सकें.
पहले तो रिचर्ड को ये आईडिया जरा भी अच्छा नहीं
लगा. हालांकि उसने मन मारकर ही सही लेकिन अपने
स्पिरिचुअल एडवाईजर के इंस्ट्रक्शन को फॉलो किया.
जिन पैसे वाले लोगों से वो नफरत करता था उन्हें प्यार

करना जार उनके लिए पुजा करना फाफा जजाब था
पर इसका रिचर्ड पर जादू जैसा असर हुआ. एक साल
के अंदर ही उसकी टीबी की बीमारी पूरी तरह से ठीक
हो गई.
रिचर्ड की हेल्थ ही इम्प्रूव नहीं हुई बल्कि उसे एक
नई फील्ड में अच्छी जॉब भी मी गई जहाँ उसकी सैलरी
भी ज्यादा थी. आज रिचर्ड उसी नामी बैंकिंग फर्म के
लिए काम करता है जिससे वो कभी बेहद नफरत किया
करता था.
Conclusion
सबसे पहले तो इस समरी से आपने सीखा कि आपको
भी दूसरों की तरह अमीर बनने का उतना ही हक है
और इस हक को आप अपने सबकांशस माइंड की
पावर और नॉलेज यूज़ करके पा सकते है. इसके लिए
आपको पहले सही माइंडसेट डेवलप करना होगा.
अपने दिमाग में ये बात बैठा लो कि आपको अमीर
बनना है और आप ये डिज़र्व भी करते हो.
सेकंड चीज़ जो आपने सीखी कि अपने सबकांशस
माइंड को कैसे इफेक्टिवली यूज़ किया जाए. अपने
सक्सेस की सारी जिम्मेदारी अपने सबकांशस माइंड

 को कैसे इफेक्टिवली यूज़ किया जाए. अपने
सक्सेस की सारी जिम्मेदारी अपने सबकांशस माइंड
में डाल दो. लेकिन इस काम को पूरे कॉन्फिडेंस और
विश्वास के साथ करना होगा ताकि आपका माइंड
एकदम शांत रहे और आपको सक्सेस के नए-नए मौके
मिले.
तीसरी चीज़ आपने थॉट इमेज के बारे में जाना कि
इसे यूज़ कैसे करना है. सबसे पहले तो अपने माइंड में
उस चीज़ के बारे में सोचो जो आप अचीव करना चाहते
हो. ये आपके सबकांशस को एक्यूरेट इंस्ट्रक्शन देगा.
आपने ये भी जाना कि अपने काम पर फ़ोकस करके
हम अपनी वेल्थ को बढ़ा सकते है.
चौथी चीज़ आपने पैसे के लिए राईट एटीट्यूड मेंटेन
रखने की इम्पोर्टेंट के बारे में समझा. अगर आप पैसे को
सिर्फ एक बुरी एनर्जी की तरफ देखोगे, जो सारी बुराई
की जड है, तो आपका सबकांशस खुद ब खुद आपको
पैसे से दूर करने की कोशिश करेगा. इसके बजाए पैसे
को आप ऐसा सिस्टम मानकर चलो जिसका सही
इस्तेमाल किया जाए तो इसमें किसी की भी जिंदगी
सुधारने की भी ताकत है. इसे आप प्रोस्पेरिटी का

साईंन मानकर चलो और फिर देखो आपकी अर्निंग
कैसे इनक्रीज होती जायेगी.
पांचवी चीज़ आपने सीखा कि आपका सबकांशस
माइंड आपको प्रोटेक्ट करता है. जब आपको इसकी
सबसे ज्यादा जरूरत होती है, ये आपसे कम्यूनिकेट
करता है. इसे हम आमतौर पर इंट्यूशन कहते है.
अपने इंट्यूशन पर भरोसा करके आप कई मुसीबतों से

बच सकते है.
छठी चीज़, प्यार यूनिवर्स का एक लॉ है. अपनी
लाइफ में सक्सेस को attract करने के लिए अपने
आस-पास लोगों में प्यार बाँटिए. नफरत और जलन
की भावना रखने से आपको कुछ हासिल नहीं होगा
चाहे आप कितने भी टैलेंटेड हो. आपने सीखा कि
प्यार ही हर प्रॉब्लम का सोल्यूशन है, यहाँ तक कि
जो आपका बुरा चाहते है उनके साथ भी प्यार से पेश
आये.
आप शायद इस वक्त अपने गोल्स को अचीव करने के
लिए स्ट्रगल कर रहे होंगे. लेकिन याद रहे, आपको इस
दुनिया में एक ख़ुशहाल और भरपूर जीवन जीने के
लिए भेजा गया है. अपने गोल्स अचीव करने के लिए
जो नॉलेज आपको चाहिए वो आपके अंदर ही है.
अपने सबकांशस माइंड की कभी ना ख़त्म होने वाली
पावर को यूज़ करके आप कुछ भी हासिल कर सकते
है.

Leave a Reply