Show Your Work! Austin Kleon. Books In Hindi Summary

Show Your Work! Austin Kleon इंट्रोडक्शन क्या आप अपने फेवरेट सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर के शेयर किए हुए काम को देखकर हैरान हो जाते हैं या आप अपने फेवरेट राइटर के नॉवल को पढ़कर हैरान रह गए थे ? ‘ क्या आप इन फेमस आर्टिस्ट के जैसे ही एक कंटेंट क्रिएटर बनना चाहते हैं? क्या यह सब आपको इतना मुश्किल लगता हैं कि आप घबरा जाते हैं? इस समरी से हम सोशल मीडिया पर शेयर किए हुए कामों के बारे में आपकी कुछ गलतफहमियों को दूर करने की कोशिश करेंगे. आप जानेंगे कि अपने कंटेंट क्रिएशन प्रोसेस को शेयर करने और अपनी रोज़मर्रा की जिंदगी की एक छोटी सी झलक दिखाने के क्या इम्पोर्टेस हैं. आप अपने लाइफ को एक ऐसी डॉक्यूमेंट्री की तरह देखना सीखेंगे जिसे रिकॉर्ड करने की और अपने फॉलोवर्स के साथ शेयर किया जाना चाहिए. आपको ऐसा करने में हिचक हो सकती है क्योंकि आपको लगता है कि आपके पास शेयर करने के लिए या दिखाने के लिए कोई स्किल नहीं हैं, लेकिन आप कुछ नया सीखकर इसकी शुरुवात कर सकते हैं. अगर आप एक ब्लॉग, यूट्यूब चैनल या किसी भी तरह का ऑनलाइन पोर्टफोलियो शरू करना चाहते हैं, कुछ नया सीखकर इसकी शुरुवात कर सकते हैं. अगर आप एक ब्लॉग, यूट्यूब चैनल या किसी भी तरह का ऑनलाइन पोर्टफोलियो शुरू करना चाहते हैं, तो यह समरी आपको बिना किसी डर या झिझक के अपना काम शेयर करने में हेल्प करेगी. आपको जीनियस होने की ज़रूरत नहीं है लाइफ में, जब भी हमारे सामने ‘जीनियस’ वर्ड आता हैं, तो उसे लेकर हम लोग काफी गलतफहमी पाल लेते हैं. कुछ ऐसी ही गलतफहमियाँ हैं जैसे कि एक फेमस आर्टिस्ट बनने के लिए, आप एक दिन सुबह उठेंगे और एक ऐसी सुपर पावर के साथ जागेंगे जो आपके आर्ट को सुंदर और एक्स्ट्राऑर्डिनरी आर्ट में बदल देगा, जिसे देखने वाला देखता ही रह जाएगा या फिर, आपको कहीं से इंस्पिरेशन मिलती है और आप फ़ौरन अपने स्टूडियो में जाते हैं, और कुछ ही घंटों या दिनों में, आप अपना मास्टरपीस तैयार कर लेते हैं. क्या आप ऐसी बातों पर भरोसा करते हैं? अगर हाँ, तो आपको यह बताते हुए दुख हो रहा हैं कि जिन लोगों के पास ऐसे पावर होते थे, वे अब इस दुनिया में नहीं हैं. जीनियस बनने का इंतजार करने के बजाय, आपको अपने सिनियस (scenius) पर काम करने की कोशिश करनी चाहिए. सिनियस का मतलब हैं वो आर्ट जिसे एक ग्रुप के कुछ लोग एकसाथ मिलकर बनाते हैं. आर्ट किसी अकेले का काम नहीं है बल्कि यह सोशल वर्क का ही नतीजा होता हैं. आप ऐसे ही किसी भी A < जा पाताजपात पापा 10 पाए44. सारा वर्क का ही नतीजा होता हैं. आप ऐसे ही किसी भी चीज़ से आर्ट नहीं बना सकते क्योंकि दूसरे लोग आपको इन्फ्लुएंस ज़रूर करेंगे और आप उनके काम की कॉपी भी कर सकते हैं. इस सेंस में, जब तक आपके पास दुनिया में कंट्रीब्यूट करने के लिए कुछ न कुछ हैं, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप क्रिएटिव हैं या नहीं. दूसरों के काम को आगे बढ़ाने के लिए आपको अपनी तरफ से कुछ add करना होगा. फिर भी आपके पास अगर शेयर करने के लिए कुछ भी नहीं है, तो आप एक स्किल चुनकर सीख सकते हैं. खुद को एक amateur यानी beginner की तरह पेश कीजिए और दुनिया के साथ इस स्किल को सीखने का प्रोसेस शेयर कीजिए. आपको एक एक्सपर्ट होने की ज़रूरत नहीं है, और हाँ, आपको परफेक्ट होने की ज़रूरत भी नहीं हैं. अपने काम को ऑनलाइन शेयर ज़रुर कीजिए, नहीं तो आप इस दुनिया में कभी नहीं जाने जाएंगे. रॉजर एबर्ट एक फिल्म क्रिटिक थे जिनका कैंसर का इलाज चल रहा था. बहुत सी सर्जरी के बाद वह परमानेंटली गूंगे हो गए थे. उनकी आवाज ही उनकी इनकम का एकमात्र ज़रिया थी, इसलिए अब रॉजर को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा था. कम्युनिकेशन के लिए शब्दों के इस्तेमाल करने के बजाय, उन्होंने कागज के टुकड़े पर या अपने लैपटॉप पर लिखना शुरू कर दिया. क्योंकि लिखना मश्किल था दसलिए रॉजर खट को टनिया से करने के बजाय, उन्होंने कागज के टुकड़े पर या अपने लैपटॉप पर लिखना शुरू कर दिया. क्योंकि लिखना मुश्किल था, इसलिए रॉजर खुद को दुनिया से अलग-थलग महसूस करने लगे थे. इसलिए, उन्होंने सोशल मीडिया से जुड़ने का फैसला किया. रॉजर ने ट्विटर, फेसबुक और अपने ब्लॉग पर अपने आइडियास को शेयर करना शुरू किया. उनके पास काफी खाली वक्त था, इसलिए वह अपने कंटेंट को पूरी तेज़ी से दुनिया के साथ शेयर करने लगे. जो कुछ भी उनके दिमाग में आता, वह उनके बारे में पोस्ट करने लगे. उन्होंने अपने बचपन, इंट्रेस्ट और फेमस लोगों के साथ अपने एक्सपीरियंस के बारे में भी पोस्ट किया. लोग उनके कंटेंट को पसंद करते थे, और वे सब रॉजर के साथ एक वर्चुअल रिलेशनशिप बनाना शुरू कर रहे थे. इस तरह रॉजर ने फिर से अपनी खोई हुई आवाज को पा लिया था. रॉजर के लिए, लिखना ही दुनिया के साथ कम्यूनिकेट करने का ज़रिया बन गया. यही तरीका था जिसने उन्हें यह महसूस कराया कि वह अभी भी जिंदा हैं और उनके पास शेयर करने के लिए अब भी कुछ हैं. वह लिख रहे थे क्योंकि जीने के लिए यही एक सहारा रह गया था. रॉजर ने blogging इसलिए नहीं की क्योंकि वह एक जीनियस थे या फिर उनके पास शेयर करने के लिए एक बेमिसाल स्किल था. वह सिर्फ चाहते थे कि लोग उन्हें सुने, और आपको भी ऐसा ही करना चाहिए. un अपने आइडियास को शेयर करना शुरू किया. उनके पास काफी खाली वक्त था, इसलिए वह अपने कंटेंट को पूरी तेज़ी से दुनिया के साथ शेयर करने लगे. जो कुछ भी उनके दिमाग में आता, वह उनके बारे में पोस्ट करने लगे. उन्होंने अपने बचपन, इंट्रेस्ट और फेमस लोगों के साथ अपने एक्सपीरियंस के बारे में भी पोस्ट किया. लोग उनके कंटेंट को पसंद करते थे, और वे सब रॉजर के साथ एक वर्चुअल रिलेशनशिप बनाना शुरू कर रहे थे. इस तरह रॉजर ने फिर से अपनी खोई हुई आवाज को पा लिया था. रॉजर के लिए, लिखना ही दुनिया के साथ कम्यूनिकेट करने का ज़रिया बन गया. यही तरीका था जिसने उन्हें यह महसूस कराया कि वह अभी भी ज़िंदा हैं और उनके पास शेयर करने के लिए अब भी कुछ हैं. वह लिख रहे थे क्योंकि जीने के लिए यही एक सहारा रह गया था. रॉजर ने blogging इसलिए नहीं की क्योंकि वह एक जीनियस थे या फिर उनके पास शेयर करने के लिए एक बेमिसाल स्किल था. वह सिर्फ चाहते थे कि लोग उन्हें सुने, और आपको भी ऐसा ही करना चाहिए. बस अपना काम शेयर कीजिए क्योंकि आपका भी हक हैं कि आप रॉजर की तरह ही खुद के होने का एहसास कर पाएं. पैसे और शोहरत की ज्यादा परवाह मत कीजिए. बस इस प्रोसेस का मज़ा लीजिए. Show Your Work! Austin Kleon प्रोसेस के बारे में सोचिए, प्रोडक्ट के बारे नहीं इंटरनेट के आने से पहले, लोगों के पास अपने आर्ट को दिखाने का सिर्फ एक तरीका था – म्यूजियम या आर्ट गैलरी. आजकल, बहुत सारे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म हैं जिन्हें आर्टिस्ट अपनी सहूलियत के हिसाब से इस्तेमाल करते हैं ताकि वे ना काम शेयर कर सकें और वह भी फ्री में. आर्टिस्ट आजकल अपने काम के प्रोसेस को शेयर कर सकते हैं. हम इंसान हैं, इसलिए हम आर्टिस्ट के साथ human level पर जुड़ना पसंद करते हैं. हमें यह जानना अच्छा लगता हैं कि आर्टिस्ट अपने क्रिएशन के प्रोसेस में कैसे स्ट्रगल करते हैं. साथ ही हमें दूसरे डिटेल्स जैसे उन्हें क्या पसंद हैं, वे कहाँ काम करते हैं, और कभी-कभी यह भी कि उन्होंने लंच में क्या खाया, यह भी जानना अच्छा लगता है. जब आप अपने प्रोसेस को शेयर करते हैं, तो आप अपने ऑडियंस के साथ ज़्यादा connect कर पाते हैं. इससे आपके ऐसे loyal audience बनेंगे जो आपका कंटेंट लेने के लिए हमेशा तैयार रहेंगे, क्रिस हैडफील्ड एक फेमस अंतरिक्ष यात्री यानि एस्ट्रोनॉट हैं. 2010 में, क्रिस ने अपनी प्रॉब्लम को सुलझाने के लिए अपनी फैमिली से मीटिंग की थी. Canadian Space Agency पैसों की तंगी झेल रही थी और उन्हें ज्यादा पैसा कमाना शरू करने के A < सुलझान क लए अपना फामला समाटिग का था . Canadian Space Agency पैसों की तंगी झेल रही थी, और उन्हें ज़्यादा पैसा कमाना शुरू करने के लिए पब्लिक के सपोर्ट की ज़रूरत थी. क्रिस आम लोगों को एस्ट्रोनॉट के human side यानि इंसानी पहलू से जोड़ने में मदद करने के लिए एक रास्ता तलाश कर रहे थे. वह और उनके कलीग्स साइंस से आगे बढ़ना चाहते थे और स्पेस में अपने डेली लाइफ को शेयर करना चाहते थे. उनके बेटे इवान ने सज्जेस्ट किया कि उन्हें अपने फायदे के लिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल करना चाहिए. इवान हैडफील्ड ने अपने पिता के लिए सोशल मीडिया पर अकाउंट बनाया, और उन्होंने अपना सोशल मीडिया का मिशन शुरू किया. पांच महीने तक, क्रिस ने International Space Station पर जो कुछ भी किया उसे शेयर करने की कोशिश की. उन्होंने ट्विटर को सवालों के जवाब देने के लिए यूज़ किया. उन्होंने outer space से ली गई फोटों को पोस्ट करने के लिए इंस्टाग्राम का यूज़ किया. यहां तक कि उन्होंने अपने दांतों को ब्रश करने का और स्पेस में सोने जैसे सिंपल एक्टिविटीस के YouTube वीडियो भी बनाए. वह जो कुछ भी शेयर कर रहे थे, वह सब स्पेस में किया गया था, इसलिए लोग क्रिस के कंटेंट के दीवाने हो गए थे. लोग उन्हें देखना पसंद करते थे. वह एक एस्ट्रोनॉट होने की रोज़मर्रा के प्रोसेस को शेयर करके अपनी प्रॉब्लम को सुलझाने में कामयाब रहे थे. 17 गोनिमा मानिने pn. TET Show Your Work! Austin Kleon हर रोज कुछ न कुछ छोटा शेयर कीजिए क्या आप रातों रात मिलने वाली सक्सेस में विश्वास करते हैं? क्या आपको लगता है कि दुनिया के सबसे कामयाब लोग एक दिन में अमीर हो गए थे? अगर ऐसा है तो आप बिलकुल गलत है, ऐसा बिलकुल नहीं हुआ था ! उनमें से सबसे लकी को भी फेमस होने से पहले बहुत मेहनत करनी पड़ी थी. इस दुनिया में एक कामयाब हस्ती बनने के लिए, आपको बहुत लंबे वक्त तक अपने काम को शेयर करना पड़ता हैं. आपको अपने सपनों को सच बनाने के लिए लम्बे वक्त तक कड़ी मेहनत करने की ज़रूरत पड़ सकती हैं, इस बात से आप निराश न हो, इसलिए आपके लिए एक टिप हैं. आपको एक बार में सिर्फ अपने एक दिन पर ही फोकस रखना हैं. पिछले चैप्टर में, हमने इस बारे में बात की थी कि आपको अपने प्रोसेस क्रिएशन का डॉक्यूमेंटेशन कैसे करना चाहिए. आपकी day-to-day activities ही सबसे ज्यादा मायने रखती हैं, इसलिए आपको इस टिप को फॉलो करना चाहिए. आपने जो कुछ भी लिखा या रिकॉर्ड किया हैं, हर वर्किंग डे के आखिर में उसे रिव्यु कीजिए और ऑनलाइन शेयर करने के लिए उसमें से कछ चनिए. ।७ पापा ON पापा ७५ कुछ चुनिए. रिव्यु कीजिए और ऑनलाइन शेयर करने के लिए उसमें से अगर आप अभी भी एक बिगिनर हैं और आपके पास शेयर करने के लिए कुछ भी नहीं है, तो उन लोगों के बारे में बात कीजिए जो आपको इंस्पायर करते हैं. हमेशा याद रखिए कि आप जो कुछ भी रोज़ करते हैं, उसे शेयर करना बहुत अच्छा साबित होता हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि यह दिखाता है कि आप अभी क्या काम कर रहे हैं. एजेंट और क्लाइंट आपके बारे में यही देखना चाहते हैं, न कि ऐसा कुछ जो आपने पिछले साल किया था. सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर ज्यादा भरोसा मत कीजिए क्योंकि ये आते हैं और चले जाते हैं. अच्छा होगा अगर आप अपने डोमेन name के साथ अपना खुद का ब्लॉग बनाएँ. लगभग एक दस साल पहले, ऑथर ने अपने नाम austinkleon.com के साथ एक डोमेन खरीदने का फैसला किया. उन दिनों, ऑथर के पास कोई ख़ास स्किल्स नहीं थी और वह सिर्फ अपने आइडिया और थॉट्स को शेयर करने के लिए लिखते थे. उनका वेबसाइट कुछ ख़ास दिलचस्प नहीं था. फिर, ऑस्टिन ने ब्लॉगिंग के बारे में सीखना शुरू किया, और उन्होंने अपने ब्लॉग को एक नई थीम के साथ अपडेट किया, जिसने सब कुछ बदलकर रख दिया. ऑथर ने अपने ब्लॉग का इस्तेमाल कर फ्लो को स्टॉक में बदला. फ़्लो का मतलब हैं डेली अपने सोशल मिडिया पर छोटी-छोटी जानकारी देना ऐसे कंटेंट आयरन अपन ब्लाग का इस्तमाल कर पलाका स्टाफ में बदला. फ़्लो का मतलब हैं डेली अपने सोशल मिडिया पर छोटी-छोटी जानकारी देना. ऐसे कंटेंट short और simple होते हैं. दूसरी तरफ, स्टॉक एक फुल प्रोडक्ट होता हैं जिस पर आप कुछ वक्त लगाकर काम करते हैं. यह ऐसा कंटेंट होता हैं जो हमेशा के लिए रहता हैं, और यह आपको वक्त के साथ और ज़्यादा follower देता हैं. ऑथर ने अपने फ्लो को शेयर करने के लिए अपने ब्लॉग पोस्ट का यूज़ किया. ये सब बहुत सिंपल कंटेंट थे. लेकिन वक्त के साथ, ये ब्लॉग बहुत बड़े होने लगे और स्टॉक में बदलने लगा. अपने ब्लॉग में, ऑस्टिन ने अपने आर्ट और प्रोजेक्ट के बारे में सब कुछ डॉक्यूमेंट किया. जब आप उनकी वेबसाइट पर जाते हैं, तो आपको उनकी किताबें, शो, स्पीकिंग इवेंट्स, और भी बहुत कुछ के बारे में हर इनफार्मेशन दिखाई देती हैं. ऑथर की ही तरह आपको भी जल्द से जल्द अपना ब्लॉग शुरू करना चाहिए. ज़रूरी नहीं कि यह फैंसी हो. आपको बस अपने काम करने के प्रोसेस को रिकॉर्ड करना शुरू करना होगा. अगर आपको लगता है कि आपके पास शेयर करने के लिए कुछ नहीं है, तो आपको अपनी सोच बदलनी चाहिए. ब्लॉग आपके स्किल्स को प्रमोट करने के लिए नहीं होते बल्कि इससे यह पता लगता हैं कि आप कौन हैं और आप इस दुनिया में क्या कर सकते हैं. आप जो कह भी जानते हैं वो सिरवाद आप जो कुछ भी जानते हैं, वो सिखाइए . बहुत से लोग मानते हैं कि उनके प्रोसेस को शेयर करने से कोई और उनके आइडिया को चुरा सकता हैं और उनका यूज़ अपने प्रॉफिट के लिए कर सकता हैं. अगर आप भी इन्हीं लोगों में से हैं, तो आपको अलग तरीके से सोचने की ज़रूरत हैं. याद रखिए कि दुनिया के लिए आपकी रिस्पांसिबिलिटी हैं कि आपको जो कुछ भी आता हैं, उसे सिखाएं. अगर आप सिर्फ बेसिक चीज़ों के बारे में जानते हैं , तब भी आपको सुनने के लिए ऑडियंस मिलेगी. आप जो कुछ भी जानते हैं, उसे सिखाकर आप अपने ऑडियंस के साथ एक गहरा रिश्ता बनाते हैं. आप उन्हें अपने साथ अपने सफर पर ले जाएंगे, और उन्हें ये पसंद आएगा. अगर आप कोई नया स्किल सीख रहे हैं, तो अपने सीखने के एक्सपीरियंस को दुनिया के साथ शेयर करने की कोशिश कीजिए. आप जो बुक्स पढ़ रहे हैं और जो प्रोडक्ट यूज़ कर रहे हैं, लोगों के साथ शेयर कीजिए. आप step-by-step tutorial भी बना सकते हैं और YouTube पर वीडियो पोस्ट कर सकते हैं. आइए एक एग्जाम्पल के लिए Barbecue की दुनिया को लेते हैं. Barbecue मास्टर्स अपने सीक्रेट रेसिपी के लिए जाने जाते हैं. स्पेशल taste ढूंढ़ने का कॉम्पिटिशन बहुत ज़्यादा हैं. जहां तक फ्रैंकलिन Barbecue की बात हैं, तो वे सब कुछ ऑनलाइन शेयर करते हैं फ्रैंकलिन Barbecue की बात हैं, तो वे सब कुछ ऑनलाइन शेयर करते हैं. एरोन फ्रैंकलिन को दुनिया के सबसे बेहतरीन Barbecue मास्टर्स में से एक माना जाता हैं और वह कैमरे के सामने अपनी Barbecue टेक्निक शेयर करते हैं. ऑथर ऑस्टिन को एक नई YouTube सीरीज़ के फिल्मिंग के लिए इन्वाइट किया गया था. यहां पर फ्रेंकलिन शुरू से आखिर तक अपने फैंस के साथ अपनी Barbecue रेसिपी शेयर करने वाले थे. फ्रेंकलिन ने इस शो में हर चीज के बारे में बात की. उन्होंने स्मोकर सेट करने, सही लकड़ी चुनने, सही तरीके से आग लगाने, अच्छा मीट चुनने, उसे काटने और सही टेम्परेचर पर स्मोक करने के बारे में बताया. तीन साल बाद, फ्रैंकलिन का Barbecue चल पड़ा और यह अमेरिका में सबसे अच्छा Barbecue बिज़नस बन गया. गर्मी हो या बरसात, वहाँ आपको हमेशा कस्टमर्स की लंबी लाइन ऑर्डर देने के लिए खड़ी दिखाई देगी. क्या अपने सीक्रेट्स को शेयर करने से फ्रैंकलिन की कामयाबी कम हो गई? नहीं. इसने उन्हें और भी ज़्यादा पॉपुलर बना दिया, और वह अपने कॉम्पिटिटर को कड़ी टक्कर देकर पछाड़ने लगे थे. फिल्म शूटिंग में ब्रेक के दौरान, ऑस्टिन ने फ्रैंकलिन और उनकी पत्नी से बात की. उन दोनों ने समझाया कि Barbecue एक ऐसा स्किल हैं जिसे सालों की प्रैक्टिस के बाद हासिल किया जा सकता हैं. वे अपने क्या अपने सीक्रेट्स को शेयर करने से फ्रैंकलिन की कामयाबी कम हो गई? नहीं. इसने उन्हें और भी ज़्यादा पॉपुलर बना दिया, और वह अपने कॉम्पिटिटर को कड़ी टक्कर देकर पछाड़ने लगे थे. फिल्म शूटिंग में ब्रेक के दौरान, ऑस्टिन ने फ्रैंकलिन और उनकी पत्नी से बात की. उन दोनों ने समझाया कि Barbecue एक ऐसा स्किल हैं जिसे सालों की प्रैक्टिस के बाद हासिल किया जा सकता हैं. वे अपने कॉम्पिटिटर्स से नहीं डरते क्योंकि उन्हें अपने स्किल पर भरोसा था. इन पति-पत्नी का मानना था कि अपनी Barbecue प्रोसेस को शेयर करने से रातोंरात मास्टर नहीं बन सकते हैं, क्योंकि ऐसा बनने के लिए, आपको बहुत मेहनत और प्रैक्टिस करने की ज़रूरत है जो आपको यूनिक बनाती हैं. इसके अलावा, शेयर करना उन्हें अच्छा लगता था, जिसकी वजह थी उनका Barbecue के लिए प्यार. फ्रेंकलिन और उनकी पत्नी को अपने काम से प्यार हैं इसलिए उन्हें जो कुछ भी आता हैं, वो हर किसी को सिखाना चाहते हैं. इसी तरह आपको भी अपने आर्ट के बारे में सोचना चाहिए. अगर आप कोई स्किल सीख रहे हैं, तो इसे दुनिया के साथ शेयर करने की कोशिश कीजिए और आपको इसके लिए बहुत सारा प्यार मिलेगा और आपकी तारीफ़ होगी. na A ९ अगर आपके पास कोई प्रोडक्ट तैयार नहीं है जिसे आप अभी बेच सकें, तो डोनेशन मांगने की कोशिश कीजिए. पैसा कमाने का दूसरा तरीका हैं ईमेल लिस्ट बनाना. अगर आप अभी नई शुरुआत कर रहे हैं, तो अपनी वेबसाइट पर फ्री ऑफ़र देकर ईमेल कलेक्ट करने की कोशिश कीजिए जहां लोग साइन- इन कर सकें और अपना ईमेल अड्रेस दे सकें. यह सोचना बंद कर दीजिए कि पैसे मांगने से आप लालची या सेल-आउट यानी बिकाऊ बन जाएंगे. आपको उन आर्टिस्ट को देखना चाहिए जिन्होंने मास्टरपीस बनाए क्योंकि उन्हें पैसे देने का वादा किया गया था. सबसे पहले, हमारे पास द गॉडफादर के राइटर मारियो पूजो का एग्जाम्पल हैं. उन पर 20 हजार डॉलर का कर्ज था. उन्होंने अपनी बुक इसलिए लिखी क्योंकि वह सचमुच दिवालिया हो गए थे. दूसरा, माइकल एंजेलो ने सिस्टिन चैपल की छत को पेंट किया क्योंकि पोप ने उन्हें बहुत सारा पैसा देने का वादा किया था. आप जो कुछ भी कर रहे हैं, एक वक्त आएगा जब आप अपने फॉलोवर्स को कस्टमर बनाने के बारे में सोचने लगेंगे. एग्जाम्पल के लिए, अमांडा पामर ने सुंदर म्यूजिक बनाया और उसे अपने फॉलोवर्स के साथ शेयर किया. फिर उन्होंने अपना अगला एल्बम बनाने के लिए पैसे मांगे. उन्होंने सिर्फ $10.000 मांगे थे लेकिन उन्हें परे पूजो का एग्जाम्पल हैं. उन पर 20 हजार डॉलर का कर्ज था. उन्होंने अपनी बुक इसलिए लिखी क्योंकि वह सचमुच दिवालिया हो गए थे. दूसरा, माइकल एंजेलो ने सिस्टिन चैपल की छत को पेंट किया क्योंकि पोप ने उन्हें बहुत सारा पैसा देने का वादा किया था. आप जो कुछ भी कर रहे हैं, एक वक्त आएगा जब आप अपने फॉलोवर्स को कस्टमर बनाने के बारे में सोचने लगेंगे. एग्जाम्पल के लिए, अमांडा पामर ने सुंदर म्यूजिक बनाया और उसे अपने फॉलोवर्स के साथ शेयर किया. फिर उन्होंने अपना अगला एल्बम बनाने के लिए पैसे मांगे. उन्होंने सिर्फ $70,000 मांगे थे लेकिन उन्हें पूरे एक मिलियन डॉलर मिले. इसलिए, यह मत सोचिए कि आप आर्टिस्ट हो इसलिए पैसे मांगना गलत हैं. आपको भी जिंदा रहना हैं, और आपको अपनी आर्ट क्रिएशन के लिए काबिल बनने की ज़रूरत हैं. अपना काम शेयर करके शुरुवात कीजिए, फॉलोवर बनाइए, फिर उनसे फाइनेंसियल हेल्प मांगने की कोशिश कीजिए. चाहे आप उन्हें कुछ बेचते हैं या डोनेशन मांगते हैं, याद रखिए कि जब तक आप अच्छा काम करते रहेंगे, तब तक आपके fans को आपकी हेल्प करने में खुशी होगी. Show Your Work! Austin Kleon डटे रहिए सक्सेस एक जुआ हैं. हो सकता है कि एक दिन आपको अच्छे रिजल्ट्स मिलें और, हो सकता हैं कि आप किसी दिन जागे और पाएं कि आप नाकाम हो गए है. कल क्या होगा इसका अंदाज़ा कोई नहीं लगा सकता इसलिए आपके रास्ते में जो कुछ आए, उसके लिए आपको तैयार रहना चाहिए. मान लीजिए कि आपने एक बुक लिखी हैं जो बहुत बड़ी हिट हुई और, अब आप दूसरी हिट किताब लिखने की कोशिश में लगना शुरू कर देते हैं. आपको यह मालूम होना चाहिए कि मुमकिन हैं कि आपकी दूसरी बुक पहली बुक जितनी सक्सेसफुल ना हो. लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आपको अपने आर्ट पर काम करना बंद करना चाहिए. आपको बस डटे रहना हैं. जैसे ही आप किसी प्रोजेक्ट को पूरा करते हैं, चाहे वह सक्सेसफुल हो या नहीं, आपको तुरंत अपने अगले प्रोजेक्ट पर काम करना शुरू कर देना चाहिए. कोई ब्रेक मत लीजिए या अपने क्रिटिक से फीडबैक या रिएक्शन का wait मत कीजिए. आपकी growth रिएक्शन का wait मत कीजिए. आपकी growth की गारंटी का एक ही तरीका हैं कि जहां तक हो सके, अपनी कोशिश पर कायम रहिए. जो भी प्रोजेक्ट खत्म होता हैं, उसे लर्निंग एक्सपीरियंस मानकर चलिए. अपने फर्स्ट प्रोजेक्ट की कामयाबी को नोट कीजिए और उसमें की गई गलती से सीखिए और फिर कोशिश कीजिए कि आगे आप उस गलती को न दोहराएं. जब आप थक जाते हैं, तभी आपको ब्रेक लेना चाहिए. इसके लिए आप ट्रेवल कर सकते हैं या खुद को रिचार्ज करने के लिए वेकेशन पर जा सकते हैं. कन्क्लूज़न इस समरी के बाद, आपने महसूस किया होगा कि जीनियस होना कोई रीयलिस्टिक गोल नहीं हैं. आप अपना अगला मास्टरपीस बनाने के लिए या फिर अपना पहला आर्ट बनाने के लिए इंस्पिरेशन का wait नहीं कर सकते. आर्ट एक ऐसा काम हैं जिसे दुनिया के साथ शेयर किया जाना चाहिए. आपको अपने कंटेंट को शेयर करना शुरू कर देना चाहिए, भले ही आप इसमें नए हों. सबसे पहले, आपने सीखा कि प्रोडक्ट को शेयर करने सबसे पहले, आपने सीखा कि प्रोडक्ट को शेयर करने से ज़्यादा ज़रूरी हैं आर्ट बनाने के प्रोसेस को शेयर करना जिसकी ज़्यादा वैल्यू होती हैं. कुछ बनाने के प्रोसेस को दिखाकर, आप अपने ऑडियंस के साथ कनेक्शन बना सकते हैं. दूसरा, आपने सीखा कि आपके ब्रैड के growth के लिए अपने काम के बारे में छोटी-छोटी डिटेल हर रोज़ शेयर करना बहुत ज़रूरी हैं. तीसरा, आपने सीखा कि आपको जो भी स्किल आती हैं, फिर चाहे वो जितनी भी बेसिक क्यों न हो, उसे आपको सिखाना चाहिए. चौथा, आपने सीखा कि पैसा माँगना कोई पाप नहीं हैं. कई लोगों का मानना हैं कि आर्टिस्ट को सिर्फ अपनी ख़ुशी के लिए और proud महसूस करने के लिए आर्ट बनाना चाहिए. लेकिन वे भूल जाते हैं कि आर्टिस्ट को भी जिंदा रहने के लिए बुनियादी चीज़ों जैसे खाना, घर वगैरह की ज़रुरत होती है. पांचवां, चाहे कुछ भी हो जाए, आपको एक-दो बार नाकाम होने के बाद भी डटे रहने की जरूरत हैं. रिजल्ट के बारे में ज्यादा मत सोचिए. बस प्रोसेस का मज़ा लीजिए और अच्छा काम करते रहिए. अब जब आपने ये सभी valuable lesson सीख लिए हैं, तो आप अपनी online presence बनाना A < तीसरा, आपने सीखा कि आपको जो भी स्किल आती हैं, फिर चाहे वो जितनी भी बेसिक क्यों न हो, उसे आपको सिखाना चाहिए. चौथा, आपने सीखा कि पैसा माँगना कोई पाप नहीं हैं. कई लोगों का मानना हैं कि आर्टिस्ट को सिर्फ अपनी ख़ुशी के लिए और proud महसूस करने के लिए आर्ट बनाना चाहिए. लेकिन वे भूल जाते हैं कि आर्टिस्ट को भी जिंदा रहने के लिए बुनियादी चीज़ों जैसे खाना, घर वगैरह की ज़रुरत होती है. पांचवां, चाहे कुछ भी हो जाए, आपको एक-दो बार नाकाम होने के बाद भी डटे रहने की जरूरत हैं. रिजल्ट के बारे में ज्यादा मत सोचिए. बस प्रोसेस का मज़ा लीजिए और अच्छा काम करते रहिए. अब जब आपने ये सभी valuable lesson सीख लिए हैं, तो आप अपनी online presence बनाना शुरू कर सकते हैं और अपने काम को दुनिया के साथ शेयर कर सकते हैं. यहां तक कि अगर आपका स्किल बेसिक हैं, तो वक्त के साथ उसमें improvement आएगा, और आपके पास loyal fans का ग्रुप बनने लगेगा.

Leave a Reply