Crushing It!: How Great Entrepreneurs Build Thei… Gary Vaynerchuck. Books In Hindi Summary Pdf

Crushing It!: How Great Entrepreneurs Build Thei… Gary Vaynerchuck इंट्रोडक्शन क्या आप जिंदगी अपनी शर्तों पर जीना चाहते हैं? क्या आप कोई ऐसा काम करना चाहते हैं जो सच में आपका पैशन है? क्या आप अपना खुद का एक सक्सेसफुल बिज़नेस शुरू कर 100% सैटिस्फैक्शन महसूस करना चाहते हैं? क्या आप फाइनेंसियली सिक्योर और खुश होना चाहते हैं? अगर हाँ तो ये बुक आपको इन सभी चीज़ों को हासिल करने के लिए एक इफेक्टिव तरीका सिखाएगी. “क्रश इट” का मतलब है अपना पर्सनल ब्रैड बनाना और अपने पैशन को एक ऑनलाइन बिज़नेस में बदलकर उससे पैसा कमाना. गैरी वेनरचक ख़ुद एक सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर हैं. उनकी पहली बुक “क्रश इट” 2009 में पब्लिश हुई थी. आप जो अभी सुनने जा रहे हैं वो उस बुक की sequel है. इस बुक में वो आपको कई और नई चीजें सिखाने वाले हैं. इस बुक में आप सीखेंगे कि एक सोशल मीडिया इंफ्लुएंसर कैसे बना जाता है. आप ऐसी पांच ख़ास वैल्यूज के बारे में जानेंगे जो आपको सक्सेसफुल होने में मदद करेंगी. इसके अलावा आप एक और अहम् बात सीखेंगे जो आपके बिज़नेस के लिए एक एसेट यातित टोगी था। गे भी गीतेंगे कि थाने टर को कैसे ‘। ५५.NIH. राजाला IS II र” बात सीखेंगे जो आपके बिज़नेस के लिए एक एसेट साबित होगी. आप ये भी सीखेंगे कि अपने डर को कैसे जीतना है. तो आइए बिना देर किए शुरू करते हैं. The Path Is All Yours अब पहला सवाल ये है कि आखिर सोशल मीडिया इंफ्लुएंसर किसे कहते हैं? इन्फ्लुएंसर वो शख्स होता है जो एक स्ट्रोंग पर्सनल ब्रैड बनाता है और किसी भी प्लेटफार्म, प्रोडक्ट, सर्विस से परे जाकर बहुत बड़ा बन जाता है. इन्फ्लुन्सर्स फेसबुक, इन्स्टाग्राम , YouTube, ट्विटर पर ज़बरदस्त और दिलचस्प कंटेंट बनाते हैं, कुछ ऐसा जो किसी का भी ध्यान अपनी ओर खींच सकते हैं. ये लोग ई-बुक्स, ऑनलाइन कोर्स, स्पोर्ट्स wear कुछ भी प्रमोट करने का दम रखते हैं. हो सकता है कि किसी इंफ्लुएंसर ने एक्सरसाइज रूटीन के बारे में कंटेंट बनाना शुरू किया हो लेकिन वो vegan रेसिपी, पेरेंटिंग एडवाइस, रनिंग शूज़ किसी भी फील्ड में expand कर सकते हैं. इन सब में एक कॉमन चीज़ है, जो हैं आप ख़ुद. चाहे आप कई अलग-अलग प्लेटफार्म को यूज़ करते हों, कई तरह के प्रोडक्ट या सर्विस के बारे में बात करते हों, लेकिन ये सब आपके बिना पॉसिबल नहीं हो सकता. आपसे आपकी पर्सनालिटी, नाम और बैंड जुड़ा हुआ है. इसे अचीव करना नामुमकिन नहीं है. जब आप कुछ अलग करने की ठान लेते हैं तो सोशल मीडिया पर ह. इसे अचीव करना नामुमकिन नहीं है. जब आप कुछ अलग करने की ठान लेते हैं तो सोशल मीडिया पर अपने हुनर और मास्टरी के ज़रिए आप पैसा कमा सकते हैं. अगर आप अपने followers की सच में परवाह करेंगे, उनके सुझावों पर ध्यान देंगे और उनके साथ दोस्तों की तरह पेश आएँगे तो ख़ुद-ब-ख़ुद आपके followers बनने लगेंगे. जब आपकी following बढ़ने लगती है तो आपके पास एडवरटाइजर और marketer भी आने लगते हैं. उनके प्रोडक्ट के बारे में बात करने के लिए, उस पर अपनी एक्सपर्ट एडवाइस देने के लिए और उनके इवेंट को अटेंड करने के लिए वो आपको पैसे भी देते हैं. इन्हें सोशल इनफ्लुएंसर इसलिए कहा जाता है क्योंकि ये लोगों की पसंद और उनके लाइफस्टाइल को इन्फ्लुएंस करते हैं, उस पर अपना असर डालते हैं. आज से दस साल पहले किसी ने सोचा भी नहीं होगा कि एक इंफ्लुएंसर होना भी कोई जॉब हो सकता है. लेकिन आज की generation YouTube पर अपना चैनल शुरू कर एक स्टार बनने का सपना देखती है. समय के साथ, ऑनलाइन प्लेटफार्म से ज़्यादा से ज़्यादा लोग जुड़ने लगे हैं. अब हम किसी भी इनफार्मेशन या एंटरटेनमेंट के लिए टीवी या न्यूज़पेपर के भरोसे नहीं रह गए हैं. आज सब के पास एक से बढ़कर एक स्मार्टफ़ोन है जिससे वो हर वक़्त ऑनलाइन प्लेटफार्म से जुड़े रहते हैं. हर रोज़, YouTube पर दुनिया भर के लोग 1.25 AA TITOTTTTTTTA |जसस वा हर वक्त आनलाइन प्लटफाम स जुड़ रहत हैं. हर रोज़, YouTube पर दुनिया भर के लोग 1.25 बिलियन घंटे के विडियो देखते हैं. लगभग हर कंपनी आज सोशल मीडिया पर अपने मार्केटिंग बजट को इंवेस्ट कर रही है क्योंकि यही वो जगह है जहां सारे कस्टमर आ गए हैं. लोगों का अटेंशन टीवी से हटकर सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर चला गया है. इसलिए एक इंफ्लुएंसर के रूप में कंपनी अपने प्रोडक्ट को डिस्प्ले करने, ad को दिखाने और अपने ब्रैड का एम्बेसडर बनने के लिए इनके पास जाती हैं ताकि वो ज़्यादा से ज़्यादा लोगों तक अपने प्रोडक्ट को पहुंचा सके. इस तरह influencers बड़ा पैसा कमाते हैं. आपको ये सुनकर यकीन नहीं हो रहा है, है ना? तो सुनिए, 2016 में दुनिया के टॉप You tubers की टोटल कमाई थी 70 मिलियन डॉलर. उनमें से कुछ गेमर्स हैं, कुछ कॉमेडियन, तो कुछ baker. सबसे फेमस instagrammer हर साल एक मिलियन डॉलर तक कमाते हैं. यहाँ तक कि 1,000 followers के साथ एक एंट्री लेवल का instagrammer हफ़्ते में दो पोस्ट अपलोड कर साल के 5,000$ कमा सकता है. एक अमेरिकन एम्प्लोई की एवरेज सैलरी 50,000 $ है. तो आप एक स्ट्रेस ऑफिस मैनेजर बनकर या फ़िर अपने पैशन को एक सक्सेसफुल बिज़नेस में बदलकर ये पैसा कमा सकते हैं. चॉइस आपकी है. अगर आप अपनी जॉब नहीं छोड़ सकते तब भी आप 9 टू 5 की जॉब के बाद देर रात ये काम कर सकते हैं. T VAIT.ha ma नपा- अगर आप अपनी जॉब नहीं छोड़ सकते तब भी आप 9 टू 5 की जॉब के बाद देर रात ये काम कर सकते हैं. आप YouTube पर कमाल के साइंस के एक्सपेरिमेंट कर या अपने favorite विडियो गेम को Twitch पर स्ट्रीम कर के एक्स्ट्रा 10,000$ कमा सकते हैं. सोशल मीडिया बहुत बड़ी है, इसकी कोई सीमा नहीं है और यहाँ किसी भी शौक या पैशन के लिए काफ़ी जगह है. ये एक ऐसी जगह है जहां कोई भी सक्सेसफुल हो सकता है. एग्ज़ाम्पल के लिए, अब फैशन मॉडल्स को ही ले लीजिए. सालों पहले, सबसे ग्लैमरस सुपर मॉडल को ही टॉप मैगज़ीन और रनवे पर फीचर किया जाता था. कुछ को प्रिंट ad और टीवी कमर्शियल मिल जाते थे. लेकिन ज़्यादातर मॉडल्स सिर्फ प्रोमो गर्ल्स बनकर ही रह जाती थीं. लेकिन आज, आपके चेहरे को खोजने के लिए किसी टैलेंट एजेंसी की ज़रुरत नहीं है. अगर आप मॉडल बनना चाहते हैं तो आप रेडी होकर सोशल मीडिया पर अपना टैलेंट दिखा सकते हैं और सीधे अपने fans से कनेक्ट कर सकते हैं. हो सकता है कि आपका टैलेंट देखकर वो आपसे ब्यूटी टिप्स, मेकअप टुटोरिअल के बारे में जानना चाहें. जब आपकी थोड़ी following बढ़ने लगेगी तो कुछ brands आपके पास आने लगेंगे जो चाहेंगे कि आप उनका शैम्पू, लिपस्टिक या क्रीम इस्तेमाल करें. वो आपको उनके प्रोडक्ट के बारे में बात करने और कुछ इवेंटस पर उनके ब्रैंड को प्रमोट करने के लिए पैसे कनेक्ट कर सकते हैं. हो सकता है कि आपका टैलेंट देखकर वो आपसे ब्यूटी टिप्स, मेकअप टुटोरिअल के बारे में जानना चाहें. जब आपकी थोड़ी following बढ़ने लगेगी तो कुछ brands आपके पास आने लगेंगे जो चाहेंगे कि आप उनका शैम्पू, लिपस्टिक या क्रीम इस्तेमाल करें, वो आपको उनके प्रोडक्ट के बारे में बात करने और कुछ इवेंट्स पर उनके ब्रैंड को प्रमोट करने के लिए पैसे भी देंगे. जब आप ये सब ख़ुद कर सकते हैं तो किसे मॉडलिंग एजेंसी की ज़रुरत है, है ना? यहाँ तक कि अगर आप बहुत ज़्यादा फोटोजेनिक नहीं हैं तब भी आप कमाल का कंटेंट बनाकर अपनी बड़ी following बना सकते हैं. बस आपके कंटेंट में दम होना चाहिए. इनफार्मेशन के साथ-साथ उसे थोडा इंटरेस्टिंग भी होना चाहिए. अपने आप को एक प्लेटफार्म, प्रोडक्ट या टॉपिक पर सीमित ना करें. आपको अपना बिज़नेस लॉन्च करने के लिए किसी की परमिशन की ज़रुरत नहीं है. आपको बस ख़ुद को रेडी करने की ज़रुरत है. ख़ुद से कहें, “आज मुझे कमाल करना है और चाहे जो हो जाए मुझे बीच में इसे छोड़ना नहीं है”. गैरी ये दावे के साथ कहते हैं कि एक बार अगर आपने ठान ली तो आपको सक्सेसफुल होने से कोई नहीं रोक सकता. Crushing It!: How Great Entrepreneurs Build Thei… Gary Vaynerchuck What Still Matters गैरी चाहते तो SEO, Google Adsense, या Lead Generation के बारे में बात कर सकते थे. लेकिन उन्होंने सिर्फ़ ज़रूरी बातों पर फोकस करने का फ़ैसला किया. अब हम आपको उन पांच फैक्टर्स के बारे में बताएंगे जिनकी ज़रुरत आपको अपना पर्सनल ब्रैड बनाने और ऑनलाइन अपना बिज़नेस बढ़ाने के लिए होगी. ज़्यादातर लोग पूछते हैं कि मुझे ज़्यादा followers कैसे मिल सकते हैं? या एक ट्रेंडिंग पोस्ट बनाने का क्या सीक्रेट है? गैरी कहते हैं कि ये सारे सवाल ही गलत हैं. इन सबके बजाय आपको अपनी एनर्जी को सबसे इम्पोर्टेन्ट चीज़ों पर शिफ्ट करना होगा. ये सिर्फ़ टेक्नोलॉजी के बारे में नहीं है. ये पांच फैक्टर हर प्लेटफार्म पर काम करते हैं. ये एक सक्सेसफुल बिज़नेस के फाउंडेशन हैं, फिर चाहे वो ऑफलाइन बिज़नेस हो या ऑनलाइन. पहला फैक्टर है intent यानी इरादा. ये आपका पर्पस होता है. यही वो कारण है जो आपको एक बिजनेसमैन बनने के लिए इंस्पायर करता है. आपका मकसद क्या है, क्या आप दुनिया के साथ अपनी नॉलेज शेयर करना चाटते हैं या याना टैलेंट दिताना चाहते हैं? त्या आत पापा २पाप पारII. जा५५॥ नपारा५५पा है, क्या आप दुनिया के साथ अपनी नॉलेज शेयर करना चाहते हैं या अपना टैलेंट दिखाना चाहते हैं? क्या आप अपनी फॅमिली को सपोर्ट करने के लिए पैसा कमाना चाहते हैं या आपको अपनी क्रिएटिविटी दिखाने के लिए एक प्लेटफार्म चाहिए या आप सिर्फ मज़े करना चाहते हैं? अगर आपका प्लान या एजेंडा ही गलत हुआ तो आप फेल हो जाएँगे. ऑडियंस बार में ही पकड़ लेगी कि आप दिखावा कर रहे हैं या सिर्फ पैसे कमाने के लिए ये सब कर रहे हैं. दूसरी ओर, अगर आपका इरादा और मकसद सही हुआ तो लोग उसे नोटिस ज़रूर करेंगे. माउथ टू माउथ पब्लिसिटी से आपका पर्सनल ब्रैड भी popular होने लगेगा. सबसे सक्सेसफुल सोशल मीडिया इंफ्लुएंसर के तीन ख़ास पर्पस होते हैं. ये तीनों ख़ासियत आप में भी होनी चाहिए. पहला, वो serve करना चाहते हैं. दूसरा, वो ज़्यादा से ज़्यादा वैल्यू देना चाहते हैं. तीसरा, वो नॉलेज और इनफार्मेशन को शेयर करना पसंद करते हैं. Service, value और education, अगर आप इन सबको साथ जोड़ दें तो एक शब्द बनता है CARE. जब पोपुलर influencers ने शुरुआत की थी तो उनका कंटेंट इतना दमदार नहीं था. उनके विडियो में ख़राब लाइट और साउंड की प्रॉब्लम भी थी. यहाँ तक कि अपने टॉपिक के बारे में उनकी नॉलेज भी बहुत A < ख़राब लाइट और साउंड की प्रॉब्लम भी थी. यहाँ तक कि अपने टॉपिक के बारे में उनकी नॉलेज भी बहुत कम थी. लेकिन इन लोगों ने हार मानकर इसे बीच में छोड़ा नहीं. वो चलते रहे क्योंकि वो अपने साथ जुड़ने वाले followers की परवाह करने लगे. और इसलिए, हर दिन उन्होंने अपनी गलतियों से सीखा, अपनी नॉलेज को बढ़ाया और इम्प्रूव करते रहे. इससे उनके कंटेंट पहले से बेहतर होने लगे. वो और भी ज़्यादा followers का ध्यान अपनी ओर खींचने लगे क्योंकि वो बस देने में विश्वास करने लगे थे. सक्सेस इंस्टेंट नूडल नहीं है जहां बस पानी गर्म किया, कुछ देर उसे पकने दिया और नूडल्स तैयार हो गए. ये लोग अपने मुकाम पर इसलिए पहुंचे हैं क्योंकि लंबे समय तक इन्हें मुफ्त में या बहुत कम पैसे में काम करना पड़ा, रात रात भर जागकर कंटेंट के बारे में सोचना पड़ा. अब आप पूछेगे क्यों? क्योंकि वो अपने followers की परवाह करने लगे, उनसे कनेक्ट कर उनकी बातें सुनने लगे और उन्होंने उनका भरोसा जीत लिया. उनकी ऑडियंस उनके प्रोडक्ट और सर्विस से इतनी ख़ुश और संतुष्ट थी कि वो उनके बारे में औरों को भी बताने लगे. इस तरह बिज़नेस ग्रो करता है. दूसरा फैक्टर है authenticity यानी सच्चाई या रियलिटी. आप जैसे हैं वैसे ही खुद को प्रेजेंट करें. कभी 0 दूसरा फैक्टर है authenticity यानी सच्चाई या रियलिटी. आप जैसे हैं वैसे ही ख़ुद को प्रेजेंट करें. कभी किसी और की तरह बनने की कोशिश ना करें. अपनी कमियों, ख़ामियों और गलतियों के बारे में बात करने में कोई बुराई नहीं है, बल्कि इससे ऑडियंस आपको ज़्यादा पसंद करेगी क्योंकि उन्हें लगेगा कि आप बिलकुल उनके जैसे हैं. अगर आपका रूम बिखरा हुआ है, या आप फ्रेश नहीं हुए या रिकॉर्ड करते समय कोई गड़बड़ हो जाती है तब भी अपना लाइव सेशन कंटिन्यू रखें. हाँ, एक और बात,ऐसा नहीं है कि आपको हमेशा अच्छे कमेंट्स ही मिलेंगे, आपको हेट कमेंट्स भी मिलेंगे. अगर आपको किसी के कमेंट पर गुस्सा भी आ रहा हो तब भी शांत बने रहें और प्रॉब्लम को सोल्व करने की कोशिश करें. क्या आपने उस एयरलाइन कंपनी के वायरल विडियो को देखा है जिसने एक फ़िजूल से रूल के कारण एक पैसेंजर को प्लेन से उतार दिया था? आप ऐसी गलती ना करें. एक गलती या गलत ट्रेंडिंग पोस्ट आपके बिज़नेस reputation को बहुत नुक्सान पहुंचा सकती है. आजकल के लोग बहुत स्मार्ट हैं, आपका असली रंग कुछ ही पलों में सामने आ जाएगा इसलिए हमेशा रियल बने रहें. तीसरा फैक्टर है पैशन यानी जुनून. अभी आपके पास क्या है? क्या आप जॉब कर रहे हैं या अपने पैशन को फॉलो कर रहे हैं? क्या आप सिर्फ जीने के लिए पैसे तीसरा फैक्टर है पैशन यानी जुनून. अभी आपके पास क्या है? क्या आप जॉब कर रहे हैं या अपने पैशन को फॉलो कर रहे हैं? क्या आप सिर्फ जीने के लिए पैसे कमा रहे हैं या अपने दिल की सुनकर वो काम कर रहे हैं जो आप सच में करना चाहते हैं? एंडी फ्रिसेला (Andy Frisella) एक nutrition और फ़िटनेस ब्रैड “Supplement Superstores” की मालिक थी. उन्होंने पैशन के बारे में कहा था कि , “एक ऐसा समय आएगा जब आपके पास बिलकुल पैसा नहीं होगा. ये वक़्त सिर्फ़ एक हफ़्ते, महीने या साल के लिए नहीं आएगा बल्कि आप सालों तक पैसों की तंगी से जूझते रहेंगे और अगर आप एक ऐसा काम कर रहे हैं जिससे आपको प्यार नहीं है, तो आप उसे बीच में ही छोड़ देंगे. मैंने अक्सर लोगों को ये कहते हुए सुना है कि अपने पैशन को फॉलो करो और सब कुछ सेट हो जाएगा. पर सच पूछो तो ये सब बातें बकवास हैं. रियलिटी ये है कि रियल लाइफ मुश्किल भी है और यहाँ बिना मेहनत किए कुछ नहीं मिलता.’ पैशन वो ज़ज्बा है जिससे आपको एनर्जी मिलती है. जिंदगी में जब आप कई बार फेल हो जाते हैं, मुसीबतों से घिर जाते हैं और सब आपका साथ छोड़ देते हैं, तब आपका पैशन ही है जो आपको आगे बढ़ते रहने की हिम्मत देता है. तो ये सब बातें बकवास हैं. रियलिटी ये है कि रियल लाइफ मुश्किल भी है और यहाँ बिना मेहनत किए कुछ नहीं मिलता.” ” पैशन वो ज़ज्बा है जिससे आपको एनर्जी मिलती है. जिंदगी में जब आप कई बार फेल हो जाते हैं, मुसीबतों से घिर जाते हैं और सब आपका साथ छोड़ देते हैं, तब आपका पैशन ही है जो आपको आगे बढ़ते रहने की हिम्मत देता है. चौथा फैक्टर है पेशेस. इस बात की उम्मीद करना की आज आपने अपना चैनल शुरू किया और कुछ ही दिनों में आपके लाखों followers बन जाएँगे, ये तो सरासर बेवकूफ़ी है. शुरुआत में आपसे चंद लोग ही जुड़ेंगे. सिर्फ आपका कंटेंट की औरों की attract करने की ताकत रखता है. इसलिए आपको बस अपना काम करते जाना है और पेशेंस बनाए रखना है. आखरी फैक्टर है हार्ड वर्क. कहानियों की तरह सक्सेस चुटकियों में नहीं मिलती. इसके लिए दिन रात कड़ी मेहनत करनी पड़ती है. आप जितने ज़्यादा क्रिएटिव और अलग होने की कोशिश करेंगे वही आपके सक्सेस का कारण बनेगी. इसलिए “Be unique and different”. Crushing It!: How Great Entrepreneurs Build Thei… Gary Vaynerchuck कंटेंट कंटेंट सोशल मीडिया प्लेटफार्म की जान होती है. एक इंफ्लुएंसर के रूप में आपका कंटेंट ही आपका असली एसेट है. हाँ, आपको अलग-अलग प्लेटफार्म पर एक्टिव होकर अपना कंटेंट पब्लिश करना चाहिए लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि हर जगह आप बिलकुल सेम कंटेंट पोस्ट कर दें. इस बात को हमेशा ध्यान में रखें कि आपका कंटेंट हर प्लेटफार्म के हिसाब से ही बनाया जाना चाहिए. ट्विटर पर लोग इंस्टाग्राम फॉलोअर्स जैसा कंटेंट नहीं ढूंढते. आपको अपने ब्लॉग पोस्ट को कॉपी पेस्ट कर फेसबुक पर अपलोड नहीं करना चाहिए. अगर आपका विडियो दस मिनट का है तो इसे YouTube पर अपलोड करना सबसे अच्छा होगा. हम सभी जानते हैं कि आमतौर पर लोगों के अलग-अलग प्लेटफार्म पर कई अकाउंट होते हैं. लेकिन बात ये है कि उनकी उम्मीद उस प्लेटफार्म पर डिपेंड करती है जो वो उस वक़्त ब्राउज़ कर रहे होते हैं. अगर वो ट्विटर पर हैं तो वो ट्रेंडिंग न्यूज़ देखते हैं. अगर वो फेसबुक पर हैं तो अपनी फॅमिली और दोस्तों के कनेक्ट करते हैं हो सकता है कि ऑफिस में लंच बेक के समय पालापटर पर ह तापा ट्राउ | न्यूज़ दखत ह. जगरपा फेसबुक पर हैं तो अपनी फॅमिली और दोस्तों के कनेक्ट करते हैं. हो सकता है कि ऑफिस में लंच ब्रेक के समय वो Snapchat पर शोर्ट विडियो देखना पसंद करते हों. लेकिन रात में, घर पर रिलैक्स करते समय वो YouTube पर लंबे विडियो देखने का टाइम निकाल सकते हैं. इसलिए आपका कंटेंट प्लेटफार्म के हिसाब से फ़िट होना चाहिए. सुनकर आपको लग रहा होगा कि भई कितना काम करना पड़ेगा तो घबराइए मत उसके लिए भी एक technique है. इसका सीक्रेट है एक main कंटेंट बनाना और फ़िर उसे छोटे-छोटे कंटेंट में ब्रेक कर देना ताकि हर प्लेटफार्म के लिए सही कंटेंट इस्तेमाल किया जा सके. ” एग्ज़ाम्पल के लिए, अगर आपका टॉपिक है चॉकलेट चिप कुकी बेक करना तो इमेजिन कीजिए कि आपने ब्लॉग पोस्ट से इसकी शुरुआत की. आप एक ज़बरदस्त इंट्रो लिखते हैं जिसके बाद आप रेसिपी के बारे में बताते हैं. अब बेक करते समय ख़ुद को रिकॉर्ड करें. उसमें यूज़ होने वाले सामान की और बेक होने के बाद कुकी की कुछ तसवीरें लें. अब आप इस फ्रेशली बेक्ड कुकी की Instagram पर पिक्चर अपलोड कर सकते हैं. बेकिंग की पूरी विडियो YouTube पर डाल सकते हैं. फेसबुक पर आप उसका सिंपल मेथड और उसके सामान को पोस्ट कर सकते हैं. इसके साथ ही आप एक छोटा सा विडियो और कुछ pictures भी डाल सकते हैं. Snapchat IT यााने टेस्टी ककी की पाक पोस्ट कर सकते हैं. इसके साथ ही आप एक छोटा सा विडियो और कुछ pictures भी डाल सकते हैं. Snapchat पर आप अपने टेस्टी कूकी की एक बाईट का मज़ा लेते हुए अपनी फ़ोटो लोड कर सकते हैं. उसके बाद आप अपनी नई रेसिपी के बारे में ट्वीट कर सकते हैं. गैरी का कहना है कि एक बेहतरीन और दमदार कंटेंट आपके स्किल और पैशन का कॉम्बिनेशन होता है. बेशक, सोशल मीडिया पर कई टैलेंटेड बेकर और शेफ होंगे लेकिन आप अपने स्किल में लगातार इम्प्रूवमेंट कर अपने ऑडियंस को वो एक्स्ट्रा नॉलेज दे सकते हैं जो उन्हें दूसरों से नहीं मिलेगा और हाँ, आप अपने कंटेंट में अपना यूनीक पर्सनल स्टाइल भी तो add कर रहे हैं. यही बात आपको बाकियों से अलग बनाती है. अब अगर आप एक beginner हुए तो क्या होगा? आप जो कर रहे हैं उसमें आप एक्सपर्ट नहीं हैं तो क्या होगा? इसका जवाब है कि आपको लिए तब भी उम्मीद है. आपको परफेक्ट पोस्ट बनाने की कोई ज़रुरत नहीं है. सीखने का प्रोसेस भी आपके कंटेंट का ही एक हिस्सा होता है. अगर आप अभी भी कुकिंग, गार्डनिंग या कोई भी स्किल सीख रहे हैं तब भी अभी शुरुआत करने में कोई बुराई नहीं है. अपने ऑडियंस को अपना प्रोग्रेस देखने दें. वो आपसे ज़्यादा जुड़ा हुआ महसूस करेंगे क्योंकि अगर आप अभा भा कुाकग, गाडानगया काई भा स्किल सीख रहे हैं तब भी अभी शुरुआत करने में कोई बुराई नहीं है. अपने ऑडियंस को अपना प्रोग्रेस देखने दें. वो आपसे ज़्यादा जुड़ा हुआ महसूस करेंगे क्योंकि आपके कंटेंट के ज़रिए वो आपकी लगन और रियलिटी को ख़ुद देख पाएँगे. कैमरे के सामने ज़्यादा कम्फ़र्टेबल होने की आदत डालें क्योंकि गैरी कहते हैं कि ये काफ़ी ज़रूरी है. को कैमरा फ्रेंडली होना होगा. ऑडियंस को रियलिटी टीवी बहुत पसंद है. वो रियल लोगों की रियल कहानियां देखना चाहते हैं. फेसबुक, YouTube, Instagram पर लाइव सेशन करें. अपने followers को अपनी लाइफ देखने दें. 7 उन्हें अपनी दादी से मिलाएं, अपने डिनर टेबल पर ले जाएं, उन्हें अपने वर्क-आउट-रूटीन की मेहनत देखने दें. ख़ुद को अपने रियलिटी टीवी का स्टार समझें. गैरी जहां भी जाते हैं अपना कैमरा साथ ले जाते हैं. वो ऐसा इसलिए करते हैं क्योंकि उनका मानना है कि कोई भी पल ख़ास हो सकता है और वो एक भी पल मिस नहीं करना चाहते. कभी भी, कहीं भी आपके माइंड में एक यूनिक और हटके आईडिया आ सकता है और वो उसे अपने fans के लिए कैमरे में कैद करना चाहते हैं. अब अपना खुद का रियलिटी शो बनाने के क्या फ़ायदे हैं? पहला, आप अपने ऑडियंस के साथ एक स्ट्रोंग कनेक्शन बनाते हैं. दसरा, आप अपने पर्सनल बैंड को भी पल ख़ास हो सकता है और वो एक भी पल मिस नहीं करना चाहते. कभी भी, कहीं भी आपके माइंड में एक यूनिक और हटके आईडिया आ सकता है और वो उसे अपने fans के लिए कैमरे में कैद करना चाहते हैं. अब अपना खुद का रियलिटी शो बनाने के क्या फ़ायदे हैं? पहला, आप अपने ऑडियंस के साथ एक स्ट्रोंग कनेक्शन बनाते हैं. दूसरा, आप अपने पर्सनल बैंड को और भी ज़्यादा मज़बूती से जमाते हैं. तीसरा, आप ad, sponsorship डील वगैरह के लिए क्लाइंट को attract करने के चांस को बढ़ा देते हैं. कई सक्सेसफुल influencers ने जब शुरुआत की थी तब उन्होंने भी कई गलतियां की, वो उस वक़्त इतने अच्छे कंटेंट नहीं बनाते थे. अपने पहले vlog और पॉडकास्ट में वो क्या कर रहे थे उन्हें कोई अंदाज़ा ही नहीं था. लेकिन उन्होंने हर दिन प्रैक्टिस किया, अपने कंटेंट को स्टडी किया. उन्होंने ये जानने के लिए कि क्या काम करता है और क्या नहीं अपने ऑडियंस की बात सुनी. उन्होंने अलग-अलग technique सीखने के लिए दूसरे influencers को भी बड़े गौर से देखा. किसी भी करियर की तरह, एक चहेता और popular influencer बनने में समय और मेहनत दोनों लगते हैं. Crushing It!: How Great Entrepreneurs Build Thei… Gary Vaynerchuck What’s Stopping You तो अब आप जान चुके हैं कि ऑनलाइन कैसे धूम मचाया जा सकता है. इसमें आपको intent, authenticity, passion, patience, hard work और content की ज़रुरत होगी. तो आपको अपना पर्सनल ब्रैड लॉन्च करने से क्या रोक रहा है? इस पर रिसर्च करने के लिए गैरी और उनकी टीम ने कमेंट सेक्शन से लोगों के अलग-अलग बहानों को इकट्ठा किया, जिनमें कुछ इस तरह की बातें लिखीं हुई थीं “मेरे पास पैसा नहीं है, मैं फुल टाइम जॉब करता हूँ, किसी को भी मेरे कंटेंट में दिलचस्पी नहीं होगी, मेरे छोटे बच्चे हैं, लोग मेरा मज़ाक उड़ाएंगे, मुझे नहीं पता कि कहाँ से शुरू करना चाहिए.” 11 ये सब ना बकवास बातें हैं, सब झूठ है. ना जाने कितने सक्सेसफुल influencer ऐसे हैं जिन्होंने जब शुरुआत की थी तब उनके पास कुछ भी नहीं था. उनके भी छोटे बच्चे हैं जिनका उन्हें ध्यान रखना पड़ता है. उनमें से कई तो ना जाने कितनी बार बिज़नेस करने में फेल भी हुए हैं. लेकिन उन्होंने हर मुश्किल को पार कर इस मक़ाम को अचीव किया है. अगर आपमें सच नपात ना ३५. पापा | VRIT गुरपा 40 पार कर इस मुक़ाम को अचीव किया है. अगर आपमें सच में कुछ करने का जुनून है, अगर आप सच में जिंदगी अपनी शर्तों पर जीना चाहते हैं तो कोई भी बहाना आपको पीछे नहीं रोक सकता. सिर्फ आपके बहाने आपको पीछे रोकते हैं. बेशक आपको कई लोग ऐसे भी मिलेंगे जो आपका मज़ाक उड़ाएंगे, आपको गुस्सा दिलाएंगे. लेकिन क्या आप जानते हैं कि वो ऐसा क्यों करते हैं? इसकी वजह का आपसे कोई लेना देना नहीं है. वो ऐसा इसलिए करते हैं क्योंकि वो ये सब कुछ नहीं कर पा रहे जो आप कर रहे हैं. वो insecure हैं और जिंदगी में ना प्रोग्रेस कर सकते हैं और ना ही कुछ अचीव कर सकते हैं. वो अपनी कमियाँ छुपाने के चक्कर में आपमें कमियाँ निकालते हैं. असल में वो आपसे जलते हैं कि आप वो कर रहे हैं जो आपको पसंद है, जिसमें आपको मज़ा भी आ रहा है और सबसे बड़ी बात, आप उससे पैसा भी कमा रहे हैं जो उन्हें बर्दास्त नहीं हो रहा. तो ऐसी सिचुएशन में आपको कैसे रियेक्ट करना चाहिए? टेलर स्विफ्ट ने इसके बारे में एक इंटरनेशनल हिट गाना लिखा था “Shake it off, shake it off.” इसका मतलब है उन्हें नज़रंदाज़ करें. उन पर ध्यान ही ना दें. उन्हें जो करना है करने दें क्योंकि सच तो ये है कि आपको पसंद करने वालों की गिनती उनसे ज़्यादा है तो उन पर फोकस करें. Crushing It!: How Great Entrepreneurs Build Thei… Gary Vaynerchuck The Only Thing You Need To Give Yourself To Crush It जब भी कोई कुछ ऐसा काम करता है जिसके बारे में किसी ने ना कभी सुना हो ही देखा तो तो वो लोगों को अजीब सा या पागलपन जैसा लगता है. इसी तरह, हो सकता है कि आपके पेरेंट्स को समझ ना आए कि आप क्या कर रहे हैं.हो सकता है कि आपके भाई-बहन और दोस्त आपका मज़ाक उडाएं. तो निराश ना हों, गुस्सा ना करें. ये लोग हमारी लाइफ में बहुत ख़ास होते हैं. इसलिए उन्हें अपने पैशन, पर्सनल बैंड और ऑनलाइन अपने बड़े आईडिया के बारे में ठीक से बताएँ. अगर फ़िर भी वो ना समझें तो कोई बात नहीं लेकिन उन्हें आपको रोकने ना दें. जब भी कोई कुछ नया करता है तो लोग उसे बेवकूफ़ समझते हैं. अक्सर रिकॉर्डिंग करते समय सड़क पर चलना या किसी स्टोर में सामान ख़रीदते समय कैमरे से बातें करना लोगों को पागलपन लग सकता है. लेकिन बातें करना लोगों को पागलपन लग सकता है. लेकिन जब आपका कंटेंट अच्छा होगा और आप पैसे कमाने लगेंगे तो उनका मुँह अपने आप बंद हो जाएगा. ऑनलाइन आपके लिए शानदार मौके इंतज़ार कर रहे हैं. ख़ासकर अगर आप अपना ख़ाली समय नेटफ्लिक्स देखने में या किसी डेट पर जाने में बिता रहे हों, तो आप इसे किसी काम की चीज़ के लिए इस्तेमाल क्यों नहीं करते? अगर आप अभी अपनी लाइफ से 100% ख़ुश नहीं हैं तो एक बार ट्राय करने में क्या हर्ज़ है? आपको फाइनली एक ही चीज़ की ज़रुरत है, अपने ख़ुद के डिसिशन की. अगर आज आप शुरुआत करने का फ़ैसला करते हैं तो कौन जानता है कि आने वाले दो तीन सालों में आप ख़ुद एक सोशल मीडिया स्टार बन जाएं. सही समय कुछ नहीं होता, शुरुआत करने के लिए हर समय सही होता है. तो जब आप अपने पैशन को बिज़नेस में बदल सकते हैं तो इस मौके को गवां रहे कन्क्लूज़न तो इस बुक में आपने सीखा कि एक सोशल मीडिया influencer कैसे बना जा सकता है. आपने जाना कि अपना पर्सनल बैंड कैसे बनाना है और अपने || IIlueTICE कस बना जा सकता 6. आपन जाना कि अपना पर्सनल बैंड कैसे बनाना है और अपने पैशन को बिज़नेस में कैसे बदलना है. आपने उन पांच फैक्टर्स के बारे में समझा जिनकी आपको ज़रुरत है जो हैं intent, authenticity, passion, patience और hard work. सबसे पहले लोगों को सर्विस और वैल्यू दें, उन्हें काम की इनफार्मेशन देकर educate करें और सबसे अहम् बात, अपने followers की परवाह करें. हमेशा अच्छा कंटेंट देने पर फोकस बनाए रखें क्योंकि अगर लोग आपके प्रोडक्ट और सर्विस से खुश होंगे तो वो इसके बारे में बात करना बंद नहीं करेंगे. वो अपने दोस्तों को भी इस बारे में बताएंगे, अपने सोशल मीडिया पर आपके बारे में पोस्ट करेंगे जिससे आपके followers बढ़ने लगेंगे और जल्द ही advertise और मार्केटिंग करने वाले भी आपके दरवाज़े पर दस्तक देने लगेंगे. इसलिए कुछ लेने से पहले देना सीखें. आपने ये भी सीखा कि कैसे कंटेंट को अलग अलग प्लेटफार्म के हिसाब से छोटे छोटे पार्ट में ब्रेक किया जा सकता है. आपने ये भी समझा कि बहाने बनाने से कुछ नहीं होता, बहाना सिर्फ ये दिखाता है कि आप मेहनत नहीं करना चाहते. अपना खुद का पर्सनल ब्रैड बनाने के लिए आपको सिर्फ़ ख़ुद को मनाने की ज़रुरत है. जब आप ख़द एक स्टार बन सकते हैं तो सिर्फ ऑडियंस देकर educate करें और सबसे अहम् बात, अपने followers की परवाह करें. हमेशा अच्छा कंटेंट देने पर फोकस बनाए रखें क्योंकि अगर लोग आपके प्रोडक्ट और सर्विस से खुश होंगे तो वो इसके बारे में बात करना बंद नहीं करेंगे. वो अपने दोस्तों को भी इस बारे में बताएंगे, अपने सोशल मीडिया पर आपके बारे में पोस्ट करेंगे जिससे आपके followers बढ़ने लगेंगे और जल्द ही advertise और मार्केटिंग करने वाले भी आपके दरवाज़े पर दस्तक देने लगेंगे. इसलिए कुछ लेने से पहले देना सीखें. आपने ये भी सीखा कि कैसे कंटेंट को अलग अलग प्लेटफार्म के हिसाब से छोटे छोटे पार्ट में ब्रेक किया जा सकता है. आपने ये भी समझा कि बहाने बनाने से कुछ नहीं होता, बहाना सिर्फ ये दिखाता है कि आप मेहनत नहीं करना चाहते. अपना खुद का पर्सनल बँड बनाने के लिए आपको सिर्फ़ ख़ुद को मनाने की ज़रुरत है. जब आप ख़ुद एक स्टार बन सकते हैं तो सिर्फ़ ऑडियंस बनकर क्यों रहना. इसलिए खुद को रेडी करें और इस मौके का फ़ायदा उठाएं क्योंकि आपका पैशन और टैलेंट देखने के लिए पूरी दुनिया आपकी ऑडियंस है.

Leave a Reply