Breakthrough Advertising By Eugene M. Schwartz Books In Hindi Summary pdf

Breakthrough Advertising
Eugene M. Schwartz
Introduction
Commercial और Advertisement हर जगह
देखे जा सकते हैं | आप इसे रास्ते में खाने का सामान
लाते समय देख सकते हैं | आप इसे सोशल-मीडिया
चलाते समय देख सकते हैं । यहाँ तक कि रास्ते से
गुज़रते समय भी , आपको कम से कम एक ad तो
दिख ही जाएगा।
Advertising के field में creativity बहुत
ज़रूरी है । आप कैसे लोगों का ध्यान अपनी तरफ़
attract कर सकते हैं? क्या है जो लोगों को रुककर
कहने पर मजबूर कर देता है, “अरे! यह तो बहुत
interesting है?” क्या है जो उन्हें मजबूर करता है
वह प्रोडक्ट खरीदने पर जिसका ad किया गया हो?
यह समरी आपको in सभी सवालों का जवाब देगी |
इसमें आप जानेंगे कि एक अच्छे ad के element
क्या हैं | आप जानेंगे कि ad बनाने के लिए बहुत
सारे सवाल पूछना ज़रूरी हैं | आप यह भी जानेंगे कि
आपको एक अच्छा ad बनाते समय बहुत सारी बातों
का ध्यान रखना होता है यानी गाइडलाइन्स को फॉलो
करना होता है।
आप इस समरी में यह देखेंगे की experts कैसे एक
effective और Successful ad बनाते हैं |
The Basic Strategy of Persuasion

The Basic Strategy of Persuasion
Copywriting, advertising का एक रूप है
| यह वह text है जो business service या
product के लिए use होता है | यह आमतौर पर
rhymes होते हैं जो लोगों का ध्यान अपनी तरफ़
खींचते हैं | Copywriting का एक example है,
“Our pack has your back!” 46 pch pet
company के dog treats box यानी डॉग के
खाने के लिए था।
इस बुक के ऑथर यूजीन के अनुसार copywriters
एक गलती करते हैं | Copywriters को ये लगता है
की वे अपनी कॉपी से एक desire को create कर
सकते हैं यानी एक इच्छा पैदा कर सकते हैं। यूजीन के
अनुसार यह झूठ है । आप एक product के लिए
desire create नहीं कर सकते | लेकिन आप पहले
से मौजूद एक desire को एक ख़ास product
में बदल सकते हैं | दूसरे शब्दों में कहे तो, आप एक
person की desire को नया रूप दे सकते हैं।
इसके लिए यूजीन automobile industry
का example देते है । 1948 में एक ख़ास
तरह की कार demand में थी | Americans
को एक लंबी, थोड़ी नीची और ज़्यादा चौड़ी कार
चाहिए थी। एक मशहूर कार बनाने वाली कंपनी,
Chrysler ने इस desire के बिल्कुल उल्टा प्रोडक्ट
बनाने का फैसला किया Chrysler ने कहा की जो
Americans चाहते हैं तो nractical नहीं है |

बनाने का फैसला किया। Chrysler ने कहा की जो
Americans चाहते हैं वो practical नहीं है |
Chrysler # decide pour ton a desired
कार के opposite कार बनाएँगे | उन्होंने ऐसी कार
बनाई जो छोटी थी और जिनमें ज्यादा leg और
head room था | Chrysler ने उन cars को
endorse करने के लिए एक महंगा creative
agency hire किया लेकिन उससे कोई फ़ायदा
नहीं हुआ | कोई Chrysler की car नहीं खरीदना
चाहता था| Chrysler अपने car के model के
लिए mass desire create करना चाहते थे |
उन्होंने पहले से मौजूदा desire को अपने product
में channel नहीं किया । इसलिए उनके car
सक्सेसफुल नहीं हो पाए ।
Mass desire का मतलब होता है जब बहुत सारे
लोगों को कुछ चाहिए होता हैं | यूजीन बताते है कि
“बहुत से लोगों का मतलब” करोड़ों लोगों से हैं | एक
successful ad तब होता है जब mass desire
इतना strong हो की लोग सच में उस product के
लिए पैसे देना चाहें । अगर सही तरीके से किया जाए
तो, advertising आपको अमीर बना सकता |
बस एक ad से आप करोड़ों dollar कमा सकते हैं।
आपको समझना होगा कि आप mass desire
क्रिएट नहीं कर सकते | ये impossible है । लेकिन
यह आता कहाँ से है ? यह कैसे बना ? Mass
Desire दो तरह के होते हैं – permanent
forces 3ft forces of change.

Desire çin 106 – pernildner
forces 3 forces of change.
आदमी और औरत दोनों के अलग-अलग पसंद-नापसंद
हैं। औरतें attractive दिखना चाहती हैं | आदमी
strong दिखना चाहता है | यह एक ऐसा force है
जिसे बदला नहीं जा सकता | अब Challenge यह
है कि कैसे एक copy writer attractiveness
और strength को define करता है या दिखाता
है | Copy writer को अपने product में इस
permanent force channel करना होगा
|
Mass desire trend के रूप में भी आते हैं |
Copy writer इसे predict नहीं कर सकते ।
अक्सर ऐसा ही होता है, जैसे, किसी इंसान के मन में
अपने घर के backyard में pool रखने की इच्छा
अचानक आ गई | यहाँ घर का मालिक यह दिखाना
चाहता था कि उनके पास इतने पैसे हैं जिससे वे pool
afford कर सकते हैं | एक copy writer को इन
सब trends की तरफ़ sensitive होना चाहिए | ये
उसे एक सक्सेसफुल ad बनाने में मदद करता है.
अब आप यह भी जानते हैं कि mass desire कहाँ
से आया । लेकिन आप इसे अपने product में कैसे
channel कर सकते हैं? एक copy writer को
तीन stage से गुजरना पड़ता है-
पहला, प्रेजेंट में जो सबसे powerful desire है
उसे पहचाने और समझे| आप बहुत सारे factors से
इसे पहचान सकते हैं | एक factor है urgency
| जैसे कि सिरदर्द की दवाई बहत से लोगों के लिए

| जैसे कि सिरदर्द की दवाई बहुत से लोगों के लिए
बहुत ज़रूरी है । वे उसके बिना काम नहीं कर सकते
| यह एक powerful desire हो सकता है |
दूसरा factor है किसी product के लिए strong
demand | खाना एक ज़रूरी टॉपिक है क्योंकि
लोगों को हर दिन खाने की ज़रूरत होती हैं।
यह पूरी तरह से आप पर depend करता है कि आप
कौन सा mass desire चुनते हैं । लेकिन आपको
यह ज़रूर तय करना है कि वह एक attractive
mass desire हो क्योंकि अगर वो नहीं हुआ तो,
आपका ad लॉन्च होने से पहले ही fail हो जाएगा।
दूसरा है, headline में एक ही statement
का इस्तेमाल करके desire को मज़बूत और
गहरा करना क्योंकि आप नहीं चाहेंगे कि आपका
clientad देखकर या पढ़कर bore हो जाए।
उसका ध्यान खींचने के लिए एक लाइन ही काफ़ी होता
है। तो आपको कैसे एक headline तैयार करना
चाहिए? मान लीजिए कि आपके client को आपके
product के बारे में पहले से पता है। आप अपना
headline अपने product के बारे में बताकर
शुरू करें। अब मान लीजिए कि आपके client को
आपके product के बारे में पता नहीं है तब आपको
desire से अपना headline शुरू करना चाहिए |
तीसरा, आपको अपने product को advertise
करना चाहिए और वो आपके client के लिए क्या
करता है वो बताना चाहिए। यहीं से advertising

दूसरा है, headline में एक ही statement
का इस्तेमाल करके desire को मज़बूत और
गहरा करना क्योंकि आप नहीं चाहेंगे कि आपका
client ad देखकर या पढ़कर bore हो जाए।
उसका ध्यान खींचने के लिए एक लाइन ही काफ़ी होता
है। तो आपको कैसे एक headline तैयार करना
चाहिए? मान लीजिए कि आपके client को आपके
product के बारे में पहले से पता है। आप अपना
headline अपने product के बारे में बताकर
शुरू करें। अब मान लीजिए कि आपके client को
आपके product के बारे में पता नहीं है तब आपको
desire से अपना headline शुरू करना चाहिए |
तीसरा, आपको अपने product को advertise
करना चाहिए और वो आपके client के लिए क्या
करता है वो बताना चाहिए। यहीं से advertising
का idea आता है | आप अपने client को अपना
product खरीदने के लिए convince कर सकते
हैं | आप अलग – अलग strategy का इस्तेमाल इस
तीसरे step में कर सकते हैं। आप उन्हें बता सकते
है कि यह कितने फ़ायदे का सौदा हैं | आप इसकी
quality के बारे में जोर देकर बता सकते हैं । इसमें
सबसे ज्यादा effective आपके product कि
uniqueness होती है यानी वो क्या चीज़ है जो उसे
दूसरे products से अलग और यूनिक बनाती है?

Breakthrough Advertising
Eugene M. Schwartz
Your Prospect’s State of Awareness
—How to Capitalize on it When You
Write Your Headline
एक advertisement में बहुत सारे elements
होते हैं | अगर एक भी element ना हो तो ad
effective नहीं होगा | आपके ad का star उसका
headline होता है | यह आम तौर पर पहली चीज़ है
जो किसी इंसान की नज़र में आता है | तो आप कैसे
अपना headline तैयार करेंगे?
सबसे पहले आपको अपने आप से तीन सवाल पूछने
हैं | पहला कि आप कौन से market के लिए aim
कर रहे हैं? क्या आप बच्चों को टारगेट कर रहे हैं या
औरतों को या adults को या फ़िर students को?
एक और सवाल यह होगा कि : आपके market की
mass desire क्या है? जैसा की बताया गया है,
बहुत सारे forces होते हैं, जो कभी ख़त्म नहीं होते हैं,
जैसे की औरतों की हमेशा attractive दिखने की
इच्छा।
दूसरा, आपके market की state of
awareness क्या है? क्या आपको लगता है
की आपके market को आपके product की
जानकारी है? क्या उन्हें पता है की आपका product
उनके desire को पूरा कर सकता है?
तीसरा , आपके market की state of

तीसरा , आपके market की state of
sophistication क्या है? दूसरे शब्दों में कहे तो,
कितने product हैं, जो आपके product की तरह
हैं?
आपका headline, compelling होना चाहिए,
ताकि वो reader को पूरा ad देखने के लिए
encourage करें | अगर वे आपका ad पूरा पढ़ते
हैं, तो आप उन्हें अपना product ज्यादा बेच सकते
हैं । आप दिए गए दूसरे और तीसरे सवालों की मदद से
headline को compelling बना सकते हैं।
Market के state of awareness के तीन
scale होते हैं | पहला है , customer को
product के बारे में पहले से पता होना | जैसे की,
Jonathan को पता है product क्या करता है,
और उसे वह product चाहिए | मान लीजिए कि
Jonathan को camera का lens चाहिए | तब
copy writer antara product to selling
point को summarize करना होगा |
Copy writer को अलग तरह के lens के बारे में
बताना चाहिए | उसे यह भी बताना चाहिए की उस
product को खरीदने पर कोई डिस्काउंट या गिफ्ट
मिलेगा क्या | यह हैडलाइन बनाने का सबसे आसान
तरीका है क्योंकि customer को पहले से पता था
की उसे क्या चाहिए।
दूसरा Scale है की customer को product
के बारे में पता है लेकिन उसे वो अभी नहीं चाहिए |

दूसरा scale है की customer को product
के बारे में पता है लेकिन उसे वो अभी नहीं चाहिए |
जैसे, Ariel को camera lens के headline के
बारे में पता है । लेकिन वो sure नहीं है की उसे किस
तरह का camera lens चाहिए | ये ऐसा scale है
जिसमें copy writers को headline लिखने में
मुश्किल होती है । लेकिन इसका एक आसान तरीका
भी है।
इसमें Copy writer को product का नाम
बताना चाहिए | जैसे, “Revere Zomar Lens,
Electric Eve Camera” | फिर उसे इसकी
superiority यानी खासियत को highlight
करना चाहिए | जैसे उस lens में imported
parts y professional photographers
उसे use करते हैं । मुद्दा ये है की आपको हैडलाइन
में यह साबित करना है की आपका प्रोडक्ट कितना
unique है।
तीसरा scale है, customer को product के
बारे में कुछ पता नहीं होना | Copy writers को इस
scale में वो करना होता है जो उन्होंने दूसरे scale
में नहीं किया है। पहले, उसे desire या product
का नाम headline में include करना होगा | यह
customer को एक idea देता है की वह ad किस
बारे में है।
दूसरा, उसे यह साबित करना होगा की product
mass desire को satisfy कर सकता है |

दूसरा, उसे यह साबित करना होगा की product
mass desire को satisfy कर सकता है |
तीसरा, उसे यह बताना होगा की कैसे वह product,
desire को satisfy कर सकता है | इसका
example है, “दोस्त कैसे बनाएं और लोगों
को कैसे इन्फ्लुएंस करें”। इस headline से ,
customer को desire का पता चल जाएगा
| अगर वह ज्यादा बाहर आना जाना या लोगों से
घुलना मिलना पसंद करेगा, तब वो यह ad पढ़ेगा
| लेकिन इस ad में दूसरा और तीसरा element
नहीं है । ऐसा इसलिए है क्योंकि यह पहले से ही
eye-catching है।
एक आखिरी सवाल जिसका आपको जवाब देना है वह
हैmarket का state of sophistication | यह
आपको एक effective headline बनाने में मदद
करेगा | इसका मतलब है अपने competitors के
बारे में जानना।
क्या होगा अगर आपका product, सबसे पहला हो
यानी उसके जैसा दूसरा प्रोडक्ट मार्केट में है ही नहीं?
तब आपका market, unsophisticated है |
लोगों को अभी तक आपके product के बारे में नहीं
पता है | यह सुनने में डरावना लगता है । लेकिन बहुत
सी कंपनियाँ हैं जो की अपने field में कोई प्रोडक्ट
सबसे पहले लॉन्च करने के लिए तरसती हैं, इसका एक
advantage भी होता है |
लेकिन आप अपना headline कैसे बनाएंगे अगर

लेकिन आप अपना headline कैसे बनाएंगे अगर
आपका product मार्केट में सबसे नया और
पहला प्रोडक्ट हो तो? तो इसके लिए आपको सिर्फ़
simplicity का ध्यान रखना चाहिए | आपको
readers को fancy शब्द का इस्तेमाल करके
confuse नहीं करना है | आपको direct रहना
हैं, लेकिन powerful रहना हैं । आपको अपने
readers को यह साबित करना हैं की आपका
product काम का है।
इस तरह के product का दो ही अंजाम हो सकता
हैं : पहला या तो वह सक्सेसफुल हो जाता है और
लोग उसकी नकल करने लगते हैं या वह फेल हो
जाता है | Slimming industry का पहला
copy writer कौन ये ये कोई नहीं जानता | तब
वजन कम करना इतना popular नहीं हुआ था
| लेकिन सारी औरतें पतली होनी चाहती थीं। तो
पहले copy writer ने इस industry में अपने
headline से history बना दी, जो था कि, “अब
अपने बदसूरत मोटापे को कम करें!”
दूसरी कंपनियों ने जल्दी ही इसे कॉपी करना शुरू कर
दिया | ये Headline compelling और direct
था | इसने औरतों की उस mass desire को टारगेट
किया, जो attractive दिखना चाहती थी।
लेकिन क्या हो अगर आपका product अलग ना
हो, यूनिक न हो? Competition बहुत तगड़ा और

लेकिन क्या हो अगर आपका product अलग ना
हो, यूनिक न हो? Competition बहुत तगड़ा और
मुश्किल हो सकता है | लोग हमेशा उस product
को चुनते हैं जो पहले मार्केट में आता है। लेकिन
फिर भी आपके प्रोडक्ट की अच्छी सेल हो सकती
है। आपके headline को, आपके product को
उसकी लिमिट में रखना होगा। इसका क्या मतलब है?
इसका मतलब है कि आपको अपने product के बारे
में बढ़ा चढ़ाकर बताना होगा, लेकिन उतना ही जितना
विश्वास करने के लायक हो ।
वजन कम करने की industry में करोड़ों
product मौजूद हैं । लेकिन उनमें से बहुत सारे
प्रोडक्ट हैं जो करोड़ों dollar कमा रहे हैं । इस
field के दो successful headlines को देखिए
| दोनों विश्वास करने की सीमा को पार करते हैं | लेकिन
वे अपने गोल को भी पूरा करते हैं | वे लोगों का ध्यान
अपनी ओर attract करते हैं |
पहला headline है : “ 4 हफ़्तों में 47 pound
वजन कम नहीं तो अपने $40 वापस पाएं!”
दूसरा headline पहले वाले के जैसा है : “मेरा वजन
6] pound कम हो गया…बिना एक मिनट भूखा रहे
I” क्या ये आपका ध्यान अपनी ओर नहीं खींचता?
क्या हो अगर आपके product जैसे करोड़ों
products मौजूद हो? यह तब होता है जब आपका
market सही मायने में sophisticated होता

market सही मायने में sophisticated होता
है | लोगों को इस industry के बारे में बहुत अच्छे
से पता होता है | उन्होंने इसके बारे में देखा और सुना
होता है । क्या तब भी आप अपने product को एक
ही तरह के products के बीच में लॉन्च करने की
के
हिम्मत दिखा पाएँगे?
इसका जवाब है market का restorative
power | दूसरे शब्दों में, क्या आपका product
कभी ना ख़त्म होने वाले mass desire को
satisfy करता है? जैसे की औरतें अभी भी अपना
वजन कम करना चाहती हैं | हालाँकि, वे सालो से इन
सारे वजन कम करने वाले ads को देखकर थक चुकी
होंगी | कुछ औरतों ने तो कई जगह कोशिश भी की
होगी। अब यहाँ पर आप आते हैं |
यह इच्छा कभी मिट नहीं सकती | तो आपके नए
product को इस पुराने mass desire को
satisfy करना होगा | आपको अपने product को
पूरी तरह से अलग तरीके में लाना होगा। इसे fresh
और believable बनाएं। सबसे ज़रूरी बात, ये क्या
करता है उसपर emphasize ना करें, यह कैसे काम
करता है उस पर emphasize करें।
वजन कम करने वाली industry में औरतें थक चुकी
हैं उन products के बारे में सुनकर जो उन्हें पतला
कर सकती हैं । इसके बजाय वे यह सुनना चाहती हैं की
कैसे वह उन्हें पतला कर सकता है | बस यह नहीं कहे

कभी ना ख़त्म होने वाले mass desire को
satisfy करता है? जैसे की औरतें अभी भी अपना
वजन कम करना चाहती हैं | हालाँकि, वे सालो से इन
सारे वजन कम करने वाले ads को देखकर थक चुकी
होंगी | कुछ औरतों ने तो कई जगह कोशिश भी की
होगी। अब यहाँ पर आप आते हैं |
यह इच्छा कभी मिट नहीं सकती | तो आपके नए
product को इस पुराने mass desire को
satisfy करना होगा | आपको अपने product को
पूरी तरह से अलग तरीके में लाना होगा। इसे fresh
और believable बनाएं। सबसे ज़रूरी बात, ये क्या
करता है उसपर emphasize ना करें, यह कैसे काम
करता है उस पर emphasize करें।
वजन कम करने वाली industry में औरतें थक चुकी
हैं उन products के बारे में सुनकर जो उन्हें पतला
कर सकती हैं । इसके बजाय वे यह सुनना चाहती हैं की
कैसे वह उन्हें पतला कर सकता है | बस यह नहीं कहे
की, “मैंने 6] pound कम कर लिया….. बिना एक
मिनट भूखा रहे!” इसके साथ यह भी बताएँ की यह
कैसे काम करता है | आप इसे सस्पेंस से भरा हुआ बना
सकते है ताकि लोग इसे पढ़ते रहेंगे | example के
लिए, ” एक यंग लड़की को हमारा नया product
कैसा लगा, उसका एक्सपीरियंस पढ़ें।”
4

Breakthrough Advertising
Eugene M. Schwartz
How to Write Body Copy as Strong as
Your Headline
अब आप जानते हैं की एक दिलचस्प headline
कैसे बनता है | आपके ज़बरदस्त headline ने
बहुत सारे लोगों का ध्यान attract कर लिया है तो
congratulation लेकिन अब आगे क्या?
अब आपको उतना ही compelling body
copy बनाना होगा | copy का मतलब है जहाँ
readers आपके product के बारे में और भी
information पढ़ते हैं । यहीं पर आपको उन्हें
HAITEIT 3119 ch product ont use checho
उनकी इच्छा पूरी हो जाएगी |
Ad का यह हिस्सा कितना लम्बा होना चाहिए? यह
तीन बातों पर depend करता है :
पहला, copy को उस product के लिए
customer में इच्छा जगाना होगा। आपको
यह दिखाना होगा की आपका product उनके
लिए कितने काम का है । दूसरा, copy को उन्हें
comfortable महसूस करवाना होगा | ये कुछ
|
ऐसा होना चाहिए कि Reader उस प्रोडक्ट को अपने
लाइफ के एक हिस्से के रूप में visualize यानी देख
पाएं। तीसरा, copy को customer को यह विश्वास
दिलाना होगा की product उनकी इच्छा को पूरा
कर सकता है।

एक copy को कैसे पढ़ा जाए ये पढ़ने वालों के थॉट
और फीलिंग्स पर depend करता है। इन थॉट्स
और फीलिंग्स को तीन पार्ट में डिवाइड किया जाता है :
डिजायर यानी इच्छा, identification यानी पहचान
और बिलीफ यानी विश्वास |
इच्छा फिजिकल, मटेरियल या sensual ज़रूरत
हो सकती है । फिजिकल तौर पर, आप ताकतवर या
attractive बनना चाहते हैं | Material तौर पर
आप एक शानदार कार या घर ख़रीदना चाहते हैं |
Sensual तौर पर आप अपनी प्यास ठंडे beer से
बुझना चाहते हैं।
इच्छा customers को कुछ भी खरीदने पर मजबूर
कर देती है । इच्छाएं उतनी ही ताकतवर होती है जितने
ताकतवर आप होते हैं | एक copy writer के तौर
पर आपका फ़र्ज यह है की आप लोगों को अपने
product को खरीदने के लिए पुश करें। लोगों को
अपनी
copy में अपने product को देखने, छूने
और महसूस करने दे | आप उसे इतना मनमोहक
बनाएं , की लोग उसे लेने के लिए खुद को ना रोक
पाएं।
identification यानी पहचान का मतलब है कि
कस्टमर खुद को सोसाइटी में कैसे देखे जाना चाहता
है। जैसे खुद को अमीर बनते हुए देखना या खुद को
एक ताकतवर इंसान बनते देखना | पहचान इच्छा का
complement है । जैसे, एक आदमी की एक
महँगी गाडी खरीदने की इच्छा है, यह बताता है की
7

complement है । जैसे, एक आदमी की एक
महँगी गाड़ी खरीदने की इच्छा है, यह बताता है की
वह आदमी खुद को अमीर इंसान के रूप में देखे जाना
चाहता है।
पहचान को गोल या fantasy भी कहा जाता है।
आपके
copy को customer को बताना होगा की
उनकी इच्छा आपका product use करने से पूरी
हो सकती है।
बिलीफ यानी विश्वास customers की अपनी राय
होती है | आपके customer का विश्वास सही या
ग़लत हो सकता है । वो आपके विश्वास से सहमत या
असहमत भी हो सकते हैं। लेकिन ये सारी चीजें मायने
नहीं रखती | मायने ये रखता है की आप कैसे उन्हें
अपने product पर विश्वास दिलाएंगे | आप ये कैसे
करेंगे? उन्हें ये दिखा कर की यह काम करता है | उन्हें
ये बता कर की यह कैसे काम करता है, उन्हें ये बताकर
कि आखिर आपका प्रोडक्ट कैसे काम करता है जो उसे
बेहद इफेक्टिव बनाता है।
The First Technique of Breakthrough
Copy: Intensification
जैसा कि बताया गया है, आप mass desire क्रिएट
नहीं कर सकते । लेकिन आप इसे अपने product
में channel ज़रूर कर सकते हैं। Mass desire
एक जैसा नहीं होता है जैसे औरतें सुन्दर दिखना
चाहती हैं । लेकिन वो attractive किस तरीके से
बन सकती हैं? यही पर advertising और आपका
prod.io+ साया है। मा d पाटो औरों को

चाहती हैं। लेकिन वो attractive किस तरीके से
बन सकती हैं? यही पर advertising और आपका
product आता है | आप ad के मदद से औरतों को
दिखा सकते हैं की वे कैसे attractive बन सकती हैं

अपने product को appealing बनाने
को Intensification कहते हैं । वह इतना
appealing होता है की, लोग सोचने पर मजबूर
हो जाते हैं की वे इसे use किए बिना पहले कैसे
रहते थे | बहुत सारे तरीके हैं intensification
को इस्तेमाल करने के | ये कुछ technique हैं जो
advertisers use करते हैं-
पहला : अपने product को बिलकुल clearly
और बेधड़क तरीके प्रेजेंट करें। उसके बारे में पूरी
information दें | उसे use करने से आपको क्या
रिजल्ट मिलेंगे आप उसे भी highlight कर सकते
हैं। मान लीजिए कि आप एक projector बेचना
चाहते हैं, अब आप ये intensification की मदद
से कैसे कर सकते हैं?
तो इसके लिए आप ये कह सकते हैं की फैंसी
डेकोरेशन करना मुश्किल होता है । आप ये बता सकते
हैं की कैसे एक projector, एक living room
को, एक सिंपल से switch की मदद से खूबसूरत बना
सकता हैं | आप यह बता सकते हैं की कैसे लोग इस
नज़ारे को देखकर उसे देखते ही रह जाएँगे। आपका
प्रोजेक्टर इतना कमाल का है की इमेज इतनी असली
लगती है की लोगों को यकीन नहीं होगा की ये नकली

प्रोजेक्टर इतना कमाल का है की इमेज इतनी असली
लगती है की लोगों को यकीन नहीं होगा की ये नकली
है।
आप लिख सकते हैं की projector high –
quality की तस्वीरें बनाता है। यह आपके पूरे परिवार
के लिए एक प्यारा सा मोमेंट कैप्चर कर सकता है। जैसे
बर्थडे की सेलिब्रेशन में तस्वीरें flash कर सकते हैं।
इससे आप तस्वीरों को backdrop की तरह use
कर सकते हैं।
दूसरा : product को action में डालना | मान
लीजिए कि लोगों को आपके product के बारे
में पहले से पता हैं वो उस industry का पहला
product नहीं है | तो अब आप लोगों का ध्यान
कैसे attract करेंगे? इसके लिए आपको लोगों को
यह दिखाना होगा की आपका product कितना
effective है।
मान लीजिए कि आप remote कंट्रोल से चलने वाला
aeroplane का खिलौना बेच रहे हैं यो आप ये बता
सकते हैं की वो एक घंटे में कितने दूर तक उड़ सकता
है।
आप ये बता सकते हैं की वो खिलौना दूसरों से
अलग कैसे है | यह कितना दूर तक जा सकता है?
क्या आप इसे बाहर चला सकते हैं या नहीं? उसकी
कॉस्ट कितनी है? अगर आप इन सब बातों का
फायदा ले सकते हैं तो लें | यहाँ सबसे ज़रूरी है अपने
product को दूसरों से अलग दिखाना।

Breakthrough Advertising
Eugene M. Schwartz

The Second Technique of
Breakthrough Copy: Identification
जैसा की हमने पहले बताया, identification यानी
पहचान का मतलब है कि एक इंसान ख़ुद को किस
तरह देखे जाने की इच्छा करता है। ऐसे लोग चाहते
हैं कि दुसरे उन्हें किसी ख़ास तरह से देखें ये| आप
एक copy writer होने के नाते इसका पूरा फायदा
उठा सकते हैं। कैसे? तो इसे हम एक example से
समझते हैं
जैसे, खाना सभी को चाहिए होता है | ये लोगों की भूख
मिटाता है | हालांकि, आज बहुत से लोगों की खाने
की अलग-अलग criteria है, जैसे खाना बिना fat
वाला या vegan होना चाहिए, खाना किसी मशहूर
restaurant का होना चाहिए वगैरह। एक मामूली
सी इच्छा का एक और भी मतलब है है: यह किसी
इंसान के बारे में बताता है यानी उसे डिफाइन करता है
| अब ऊपर का example लिया जाए तो ऐसे इंसान
को health conscious कहा जाएगा या उसे
sophisticated कहा जा सकता है। दूसरे शब्दों
में कहे तो, identification लोगों की status को
All Done?
Finished

sophisticated कहा जा सकता है। दूसरे शब्दा
में कहे तो, identification लोगों की status को
मजबूत करता है।
कस्टमर को बताएँ कि आपका product लोगों
को क्या बनाता है या उन्हें किस तरह डिफाइन करता
है | क्या ये उसे सुन्दर और अमीर दिखा सकता है?
क्या ये उसे ताकतवर और कामयाब बना सकता है?
आप अपने product को ऐसा बनाइये की लोग उसे
देखकर अपने आपको रोक ना पाएँ । लेकिन हमेशा
याद रखे की आपका प्रोडक्ट रीयलिस्टिक और विश्वास
करने के लायक हो | आपका product उनके लिए
उनके status सिंबल यानी स्टेटस की पहचान होना
चाहिए | आपके customer दूसरे लोगों को ये नहीं
कह सकते की वो अमीर हैं, ना ही वो ये कह सकते हैं
की वे अपने hygiene का ध्यान रखते हैं इसलिए
आपके product को ही आपके customer की
status के बारे में बताना होगा।
जैसे, cigarette को ताकत की निशानी की तरह
देखा जाता था | Marlboro ने इस main इमेज
यानी strength को अलग-अलग तरह से दिखाया
| पहले उन्होंने एक ad बनाया जिसमें उन्होंने एक
बड़े और ताकतवर इंसान को smoking करते
हुए दिखाया | फिर उन लोगों को अलग-अलग
सिताराशन में दिग्तामा शानी सी सिताराशन में दिग्तागा

हुए दिखाया। फिर उन लागा का अलग-अलग
सिचुएशन में दिखाया यानी ऐसी सिचुएशन में दिखाया
जिसमें strength यानी ताकत की ज़रुरत थी
जैसे की लकड़ी काटना और आखिर में उन लोगों
को smoking करते हुए अपने हाथ पर tattoo
बनवाते हुए दिखाया गया।
यहाँ Marlboro ने cigarette की main इमेज
strength को अलग-अलग तरह से दिखाया. इसे
बार-बार रिपीट कर दिखाने से उनकी सेल बढ़ने लगी
क्योंकि इसने लोगों का ध्यान अपनी ओर खींच लिया
था।
Conclusion
तो आपने सीखा कि आप अपने product के लिए
इच्छा पैदा नहीं कर सकते | मार्केट में पहले से ही बहुत
सारी इच्छाएं मौजूद हैं | पहले से मौजूद इच्छाओं को
अपने product में channel कर के आप इसका
फ़ायदा उठा सकते हैं।
Mass desire तब होता है जब करोड़ों लोगों
को कुछ चाहिए होता है । उन्हें वो चीज़ इस कदर
चाहिए होती है की वो उसके लिए पैसे देने को भी
तैयार होते हैं। Mass desire दो तरह के होते
: permanent forces 31 forces of
change | Permanent forces वह होते हैं जो
हमारे दिमाग़ में पहले से बैठा हआ होता हैं |

change I Permanent forces वह होते हैं जो
हमारे दिमाग़ में पहले से बैठा हुआ होता हैं |
आपने headline बनाना सीखा | आपको
headline बनाने से पहले कुछ सवाल पूछने
होते हैं जैसे, आपका market कौन सा है और
उसका mass desire क्या है? उसका state
of awareness क्या है? उसका state of
sophistication क्या है?
अपने सीखा की copy आपके headline की
तरह ही appealing होनी चाहिए | यही पर
customers को आपके product के बारे में पता
चलता है | आपके copy को उस इच्छा को और भी
मजबूत करना है जो आपका गोल है | आपके copy
को customer को comfortable महसूस
कराना है | उसका मकसद आपके customer की
इच्छा को पूरा करना है।
आप अपना copy कई तरीकों से बना सकते हैं।
उसे आपके customer की इच्छाओं को पूरा करना
होगा | वह उस रोल को दिखा सकता है जो आपका
customer सोसाइटी में निभाना चाहता है और
आखिर में उसे लोगों के विश्वास को मजबूत करना होगा

Intensification ych breakthrough copy
की technique है | ये आपको यह बताने में मदद
करता है की आपका product क्या करता है |
आपको बेधड़क होकर अपने प्रोडक्ट की खासियत
बतानी होगी. यह visualization का इस्तेमाल
cech customer cat 3114cht product cat
खरीदने के लिए मनाता है | इस technique में एक
कहानी सुनाने का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।
Identification यानी पहचान दूसरा
breakthrough technique है | आपका
product ऐसा होना चाहिए जो सोसाइटी आपके
customer के रोल को पूरा कर सके |आपके
कस्टमर ख़ुद को एक सक्सेसफुल इंसान के रूप में
देखे जाना चाहते हैं | आपका product उसकी
सक्सेस को दिखाती है | Identification दो चीजों
को पूरा करती है : किसी आदमी की इच्छाएं और
दूसरा आदमी की ख़ुद को एक ख़ास तरह से देखे जाने
की इच्छा।
Advertising catfield, creative freedom
को support करता है | आप इन elements को
साथ मिलाने से कभी ना डरें | आप अपने आप को
कुछ नया सोचने के लिए challenge करें | क्या पता
आपका बेतका सा लगने वाला idea एक बड़ा हिट

Leave a Reply